बस्ती: कोविड संक्रमणकाल के कारण स्थगित मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला फिर शुरू होने जा रहा है। पहला आयोजन 19 सितंबर को होगा। इस दिन जिले के 39 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (पीएचसी) पर स्वास्थ्य मेले में मरीजों की सेहत जांची जाएगी।

सीएमओ अनूप कुमार ने बताया कि प्रत्येक रविवार को सभी पीएचसी पर सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक मेले का आयोजन होगा। कोविड की स्थिति सामान्य होने के बाद शासन ने इसे शुरू करने का निर्देश दिया है। स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी है। मेले में स्वास्थ्य सेवाओं के साथ ही आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाए जाने की भी सुविधा प्रदान की जाएगी। परिवार नियोजन से संबंधित परामर्श भी दिए जाएंगे।

अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद की ओर से इस बाबत जारी पत्र में कहा गया है कि आरोग्य स्वास्थ्य मेले में स्वास्थ्यकर्मियों के अलावा निकट के हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के कर्मी तैनात किए जाएंगे। चिकित्सकों द्वारा परामर्श के साथ ही निश्शुल्क जांच व दवा की सुविधा उपलब्ध होगी। गंभीर मरीज मिलने पर उसे हायर सेंटर के लिए रेफर भी किया जाएगा, जहां इलाज के साथ आपरेशन की निश्शुल्क सुविधा प्रदान की जाएगी। प्रयास किया जाएगा कि मरीज को सरकारी एंबुलेंस उपलब्ध कराई जाए। विशेष रूप से रैपिड डायग्नोस्टिक किट आधारित जांच की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी।

---

मेडिकल कालेज के चिकित्सक भी देंगे सेवाएं : आरोग्य स्वास्थ्य मेले में मेडिकल कालेज के चिकित्सक भी सेवाएं देंगे। इसके अलावा आयुष तथा इंडियन मेडिकल एसोसिएशन से समन्वय स्थापित कर उसकी भी सेवा रोटेशन के आधार पर ली जाएगी। बाल विकास विभाग की भी सक्रिय सहभागिता सुनिश्चित कराई जाएगी।

---

मास्क लगाकर आने वाले ही पा सकेंगे प्रवेश : मेला परिसर में मास्क, गमछा आदि लगाकर आने वाले लोग ही प्रवेश पा सकेंगे। कोविड प्रोटोकाल का पालन सख्ती के साथ किया जाएगा। प्रवेश द्वार पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कोविड प्रोटोकाल के जानकार एनसीसी, नेहरू युवा केंद्र, एनएसएस व युवक मंगल दल के वालंटियर्स की मदद ली जाएगी। गेट पर हेल्प डेस्क सक्रिय करते हुए पल्स आक्सीमीटर व थर्मल स्कैनिंग कराए जाने की व्यवस्था कराई जाएगी। शारीरिक दूरी बनाए रखने के लिए दो गज पर मार्किंग की जाएगी।

Edited By: Jagran