जागरण संवाददाता, बस्ती : कोरोना टीकाकरण से वंचित लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। गुरुवार को जिले के 437 बूथों पर अभियान चलाया गया। 16 हजार 33 लोगों को कोविड से बचाव का टीका लगाया गया।

जिला अस्पताल, महिला अस्पताल, ओपेक चिकित्सालय कैली समेत सभी सीएचसी-पीएचसी व सब सेंटरों व गांवों में अभियान चलाकर छूटे लोगों का टीकाकरण किया गया। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. फखरेयार हुसैन ने बताया कि कुल 37 हजार टीका लगाए जाने का लक्ष्य रखा गया था। बीमार रहने वाले व्यक्तियों को चिह्नित करके उनको प्राथमिकता पर टीका लगवाया जा रहा है। महिला अस्पताल में 107 को कोविशील्ड और 40 को को-वैक्सीन लगाई गई। एएनएम ज्योति गुप्ता, सुनीता त्रिपाठी, तसनीमा फरहीन, गुड़िया शर्मा, बुशरा खातून, पलक श्रीवास्तव ने वैक्सीनेशन किया। जिला अस्पताल में 65 को कोविशील्ड, 36 को को-वैक्सीन लगी। एएनएम अपूर्वा श्रीवास्तव, सरिता सिंह, प्रीति चौरसिया, विकास त्रिपाठी, अभिषेक चौधरी ने वैक्सीनेशन किया। ओपेक चिकित्सालय कैली में भी वैक्सीनेशन हुआ। अर्बन हेल्थ कोआर्डिनेटर सचिन चौरसिया ने शहरी क्षेत्र के टीकाकरण बूथों पर जाकर निरीक्षण किया। वैक्सीनेशन कार्य देखा और दिशा-निर्देश दिए। इसके अलावा नेशनल मोबाइल मेडिकल यूनिट (एनएमएमयू) के जरिये भी टीकाकरण किया गया। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि अब तक 19 लाख 47 हजार 584 लोगों को वैक्सीन लग चुकी है। साऊंघाट में प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक डा. विमल द्विवेदी के नेतृत्व में गांवों में अभियान चलाकर छूटे लोगों को कोरोनारोधी वैक्सीन की डोज लगाई गई। अधीक्षक ने बताया कि कुल 1185 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। उन्होंने ग्रामीणों से अपील किया है कि जिनको टीका नहीं लगा है वह केंद्र पर पहुंच कर टीका लगवाएं।

Edited By: Jagran