बस्ती: उत्तर प्रदेश बार काउंसिल के आह्वान पर जनपद के अधिवक्ता गुरुवार को न्यायिक कार्य से विरत रहे। उन्होंने कचहरी गेट पर प्रदर्शन कर नारेबाजी की। उनका कहना था कि सरकार अधिवक्ताओं को सुरक्षा नहीं दे पा रही है।

उत्तर प्रदेश बार काउंसिल ने पूरे प्रदेश में गुरुवार को विरोध प्रदर्शन करने का एलान किया था। इस क्रम में जनपद के अधिवक्ता सिविल बार एसोसिएशन के अध्यक्ष रमाशंकर पांडेय, पूर्व महामंत्री प्रेम प्रकाश श्रीवास्तव, महामंत्री अविनाश त्रिपाठी, जनपद बार के मंत्री रविशरण सिंह की अगुवाई में जनपद न्यायालय के दूसरे गेट पर एकत्र हुए और नारा लगाते हुए जिलाधिकारी के कार्यालय पहुंचे। उनका कहना था कि प्रदेश के कई अधिवक्ताओं की हत्या कर दी गई है जिससे पूरे अधिवक्ता समाज में प्रदेश सरकार को लेकर आक्रोश है। कहीं ना कहीं अधिवक्ताओं की सुरक्षा कर पाने में इस सरकार को विफल माना जा रहा है। जिस प्रकार लखनऊ के अधिवक्ता शिशिर त्रिपाठी की पीट-पीटकर हत्या की गई वह कोई सामान्य घटना नहीं है।

विरोध प्रदर्शन में कौशल किशोर श्रीवास्तव, दिनेश नारायण त्रिपाठी, महेश कुमार श्रीवास्तव, हनुमत प्रसाद शुक्ल, हरीश कुमार श्रीवास्तव, शिवपूजन मिश्र, रवि प्रताप सिंह, प्रभाकर मिश्रा, राजेश यादव, ओमकार यादव, राम विनय शुक्ला, अरविद चौधरी, रामकृष्ण पाठक, राकेश पांडेय, जितेंद्र बहादुर सिंह, राकेश दुबे आदि शामिल रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस