संसू, फतेहगंज पश्चिमी (बरेली) : एक किशोर बहगुल नदी किनारे शौच को गया। पैर फिसलने के कारण वह नदी में डूब गया। इससे उसकी मौत हो गई। गोताखोरों ने उसका शव बाहर निकाला।

यह घटना बुधवार सुबह करीब 6 बजे की है। गांव खानपुर के समीप बहगुल नदी है। अधिकांश लोग नदी के तट किनारे शौच को जाते हैं। गांव के खेमकरन का पुत्र भूपेंद्र नदी किनारे शौच को गया। इस दौरान उसका पैर फिसल गया। नदी में डूब गया। गांव के कुछ लोगों ने उसे डूबते देख लिया। उन्होंने शोर मचाकर घटना की जानकारी आसपास मौजूद लोगों को दी। कई लोग उसे बचाने के लिए नदी में कूद गए। करीब एक घंटे के बाद उसका शव मिला। सूचना पर परिजन घटनास्थल पर आ गए। शव को घर ले गए। बताते हैं कि भूपेंद्र मिर्गी रोग से पीड़ित था। उसे दौरे पड़ते थे। यह आशंका जताई जा रही है कि शौच के समय दौरा पड़ने से वह नदी में डूब गया। पिता ने बताया कि उनके पुत्र को काफी समय से मिर्गी के दौरे आते हैं। हो सकता है कि दौरा पड़ने से यह हादसा हुआ हो। भूपेंद्र भाई बहनों में सबसे बड़ा था। शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। फिलहाल, पुलिस ने घटना की जानकारी होने से इन्कार किया है।

By Jagran