बरेली, जेएनएन। रिठौरा कस्बे में स्थित एक निजी अस्पताल में प्रसव के दौरान महिला और उसके नवजात की मौत हो गई। मौत की सूचना मिलते ही ग्रामीणों ने अस्पताल पहुंचकर हंगामा शुरु कर दिया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर महिला और उसके बच्चे के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम भेजने की तैयारी शुरू कर दी है। मृतक महिला के परिजनों ने लापरवाही की तहरीर थाना पुलिस को दी है। पुलिस ने मामले की जांच कर रही है।

थाना हाफिजगंज क्षेत्र के ग्राम आसपुर निवासी धर्मेंद्र कुमार रविवार को अपनी पत्नी कांति देवी का प्रसव कराने कस्बा रिठौरा स्थित एक निजी नर्सिंग होम में लाए थे। उन्होंने बताया कि वहां मौजूद चिकित्सकों ने महिला का ऑपरेशन करने को कहा। धर्मेंद्र का कहना है कि अस्पताल में ऑपरेशन करने की सुविधा ही नहीं थी लेकिन चिकित्सकों ने ऑपरेशन करना शुरु कर दिया। ऑपरेशन के दौरान ही महिला एवं नवजात शिशु की मौत हो गई । घटना की सूचना पर नर्सिंग होम पर काफी लोग एकत्र हो गए और डॉक्टरों पर लापरवाही एवं सुविधाओं का पूर्ण न होने का आरोप लगाते हुए बवाल करने लगे।घटना की सूचना पर थाना प्रभारी हाफिजगंज सुरेंद्र सिंह चौकी इंचार्ज रिठौरा सिद्धार्थ उपाध्याय पुलिस बल के साथ नर्सिंग होम पहुंच गए। उन्होंने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पंचनामा भरने की प्रक्रिया शुरू कर दी। मृतकों के परिजनों ने चिकित्सकों के विरुद्ध घोर लापरवाही एवं सुविधाओं की कमी बताते हुए प्रार्थना पत्र दिया है जिसकी पुलिस जांच कर रही है

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप