बरेली, जेएनएन : पेंट के छींटे पड़ने से नाराज पेंटर ने ब्रश फेंककर उसे मार दिया जिससे नाबालिग की आंख फूट गई। लहूलुहान हालत में परिजन उसे अस्पताल लेकर गए लेकिन किसी भी अस्पताल ने इलाज से हाथ खड़े कर दिए। जिसके बाद परिजनों ने आरोपित के खिलाफ इज्जतनगर थाने में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।
बारादरी के जोगी नवादा निवासी इशाकत के चार बच्चों में सबसे छोटा 15 वर्षीय बेटा आफताब पेंटिंग का काम सीख रहा है। वह बजरंग ढाबे के पास लईक टेंट हाउस में काम करता है। रविवार दोपहर वह दुकान पर पेंट का काम कर रहा था। इसी दौरान पेंट की कुछ छींटे बगल में काम कर रहे रिजवान पुत्र नजीर अहमद निवासी गांव रिछौला थाना नवाबगंज के कपड़ों पर पड़ गई। रिजवान और आफताब साथ ही काम करते हैं।

आरोप है कि उसने गाली गलौज शुरू कर दी। जब आफताब ने विरोध किया तो आरोपित नें पेंट करने वाला ब्रश दूर से ही उसे खींचकर मारा। ब्रश का डंडा आफताब के बाएं आंख में जा घुसा तो वह लहूलुहान हालत में चीखने लगा। सूचना पर तत्काल पीआरवी पहुंची और आरोपित को हिरासत में ले लिया। परिजन आफताब को तीन बड़े अस्पताल लेकर गए लेकिन उन्होंने इलाज से हाथ खड़े कर लिए। पुलिस ने घायल का मेडिकल कराया और आरोपित को गिरफ्तार कर लिया।

गुस्से ने कर दी दो जिंदगी बर्बाद
आरोपित रिजवान ने बताया कि उसे नहीं पता था कि आफताब की आंख में ही ब्रश का हत्था घुस जाएगा। उसने तो सिर्फ मारने की लिए ब्रश मारा था। एक तरफ जहां आफताब की आंख फूट गई तो दूसरी तरफ इस मुकदमे में उसे 10 साल से अधिक की सजा हो सकती है, यदि ऐसा होता है तो आरोपित की जिंदगी भी बर्बाद हो जाएगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस