जागरण संवाददाता, बरेली: नवाबगंज विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी डा. एमपी आर्य के चुनाव कार्यालय के उद्घाटन के दौरान गुरुवार को आचार संहिता का उल्लंघन और कोविड प्रोटोकाल का पालन नहीं किया गया। उद्घाटन के दौरान पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ जुटी। लोग बिना मास्क लगाए घूमते रहे। मामले का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर भी वायरल होने के बाद स्टेटिक मजिस्ट्रेट ने भाजपा प्रत्याशी व अन्य लोगों के विरुद्ध शुक्रवार को आचार संहिता के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज कराया।

कस्बे के मुख्य मार्ग स्थित श्रीराम टाकीज के भवन में गुरुवार को भाजपा प्रत्याशी डा. एमपी आर्य के चुनाव कार्यालय का उद्घाटन सांसद संतोष गंगवार ने किया था। इस दौरान वहां खूब भीड़ जुटी। शारीरिक दूरी नहीं दिखी और सैकड़ों लोग बिना मास्क के ही घूम रहे थे। लोगों ने सड़क पर वाहन खड़े किए तो जाम भी लग गया था। मामले का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ तो शुक्रवार को एसडीएम राजीव कुमार शुक्ला ने स्टेटिक मजिस्ट्रेट को जांच के आदेश दिए। स्टेटिक मजिस्ट्रेट चंदन सिंह ने जांच के बाद भाजपा प्रत्याशी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिए अपनी रिपोर्ट पुलिस को दे दी। देर शाम पुलिस ने इस मामले में भाजपा प्रत्याशी डा. एमपी आर्य व अन्य के विरुद्ध आचार संहिता के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज कराया। कोतवाल अशोक कुमार काम्बोज ने बताया कि जांच में अन्य लोगों के नाम सामने आने पर उनके विरुद्ध भी कार्रवाई की जाएगी। वर्जन

कार्यक्रम के दौरान आचार संहिता के नियमों का उल्लंघन नहीं किया गया है। मुकदमा नहीं दर्ज हुआ है।

डा. एमपी आर्य, भाजपा प्रत्याशी

---

पप्पू गिरधारी के बेटे समेत बरातघर प्रबंधक के खिलाफ मुकदमा दर्ज

जासं, बरेली: बारादारी थाना क्षेत्र स्थित एक गेस्ट हाउस में बिना अनुमति के चुनाव को लेकर की गई बैठक मामले में एसएफटी प्रभारी द्वारा बारादरी थाने में पप्पू गिरधारी के बेटे रिकू व अन्य के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया है।

बारादरी पुलिस को दी गई तहरीर में बताया गया कि 19 जनवरी की दोपहर सुरेश शर्मा नगर के पास स्थित दिशा बैंक्वेट हाल में पप्पू गिरधारी के बेटे रिकू ने बिना अनुमति के जनसभा कराई थी। साहू राठौर विकास समिति की ओर से आयोजित जनसभा में नेताओं के साथ सैकड़ों की संख्या में समाज के लोग व भाजपा समर्थक भी शामिल हुए। जानकारी पर उड़नदस्ता प्रभारी धर्मेंद्र रस्तोगी ने मौके पर जांच की। कार्यक्रम का एक वीडियो भी इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ था। उसकी भी पड़ताल की गई। जांच में पाया कि सभा में कोविड गाइडलाइन का पालन नहीं किया गया था। साथ ही अचार संहिता का भी उल्लंघन हुआ। जिसके बाद शुक्रवार को सभा के आयोजक रिकू, बरातघर के प्रबंधक प्रमोद कुमार समेत वहां जुटे अज्ञात लोगों के खिलाफ महामारी अधिनियम और आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है। एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने बताया कि उड़नदस्ता प्रभारी की शिकायत पर बारादरी पुलिस ने सभा के आयोजक और बरातघर के प्रबंधक पर मुकदमा दर्ज किया है।

जासं, बरेली: बारादारी थाना क्षेत्र स्थित एक गेस्ट हाउस में बिना अनुमति के चुनाव को लेकर की गई बैठक मामले में एसएफटी प्रभारी द्वारा बारादरी थाने में पप्पू गिरधारी के बेटे रिकू व अन्य के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया है।

बारादरी पुलिस को दी गई तहरीर में बताया गया कि 19 जनवरी की दोपहर सुरेश शर्मा नगर के पास स्थित दिशा बैंक्वेट हाल में पप्पू गिरधारी के बेटे रिकू ने बिना अनुमति के जनसभा कराई थी। साहू राठौर विकास समिति की ओर से आयोजित जनसभा में नेताओं के साथ सैकड़ों की संख्या में समाज के लोग व भाजपा समर्थक भी शामिल हुए। जानकारी पर उड़नदस्ता प्रभारी धर्मेंद्र रस्तोगी ने मौके पर जांच की। कार्यक्रम का एक वीडियो भी इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुआ था। उसकी भी पड़ताल की गई। जांच में पाया कि सभा में कोविड गाइडलाइन का पालन नहीं किया गया था। साथ ही अचार संहिता का भी उल्लंघन हुआ। जिसके बाद शुक्रवार को सभा के आयोजक रिकू, बरातघर के प्रबंधक प्रमोद कुमार समेत वहां जुटे अज्ञात लोगों के खिलाफ महामारी अधिनियम और आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है। एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने बताया कि उड़नदस्ता प्रभारी की शिकायत पर बारादरी पुलिस ने सभा के आयोजक और बरातघर के प्रबंधक पर मुकदमा दर्ज किया है। पप्पू गिरधारी की पत्‍‌नी रेखा आर्य उत्तराखंड सरकार में मंत्री हैं।

Edited By: Jagran