बरेली, जेएनएन। Villagers attacked on Hardoi Police in Shahjahanpur : प्रेमी जोड़े की तलाश में सोमवार सुबह शाहजहांपुर के कांट क्षेत्र के गांव में दबिश देने पहुंची हरदोई पुलिस से ग्रामीण भिड़ गए। अभद्रता का आरोप लगाते हुए गाड़ी पर लाठी-डंडों से हमला कर दिया, जिसमें दो पुलिसकर्मी घायल हो गए। ग्रामीण युवक व उसकी भाभी को छुड़ाकर अपने साथ ले गए। इस बीच युवक व उसके चाचा के घर आग लग गई। उन दोनों के भी चोटें आई हैं। देर शाम तक इस मामले में कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई थी।

हरदोई जनपद के थाना हरपालपुर के ग्राम वसाइन पुरवा निवासी युवती की शादी चार वर्ष पूर्व शाहाबाद के ग्राम रेभा में हुई थी। युवती कांट के ग्राम सिकरहन निवासी मोहित की ममेरी भाभी है। रेभा जाने के दौरान मोहित का अपनी भाभी से प्रेम प्रसंग हो गया। घर वालों ने विरोध किया तो करीब दो सप्ताह पूर्व वह भाभी को अपने साथ लेकर घर आ गया। दोनों ने कोर्ट मैरिज भी कर ली। युवती के स्वजन ने मोहित के खिलाफ हरपालपुर थाने में मुकदमा दर्ज करा दिया। सोमवार सुबह छह बजे हरपालपुर थाने से एसआइ किरनपाल सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम कुर्रिया चौकी पहुंची।

जहां चौकी प्रभारी शैलेष शुक्ला को साथ लेकर सिकरहन में छापा मारा। मोहित व उसकी भाभी को घर से बरामद कर पुलिस ने गाड़ी में बैठाया तो स्वजन कोर्ट मैरिज के कागजात ले आए, लेकिन पुलिस ने मानने से इन्कार कर दिया। इस बीच ग्रामीण भी एकत्र हो गए। पुलिसकर्मियों ने मोहित के स्वजन से अभद्रता की तो वहां मारपीट शुरू हो गई। गुस्साए ग्रामीणों ने लाठी डंडों से हमला बोल दिया। गाड़ी के शीशे तोड़ दिए। अचानक हुए इस हमले से पुलिसकर्मी घबरा गए। ग्रामीणों ने प्रेमी जोड़े को छुड़ाकर गांव से बाहर भेज दिया।

इस हमले में दो पुलिसकर्मी घायल हो गए।मोहित व उसके चाचा रनवीर को भी चोट आई। एक दारोगा का पिस्टल भी नाले में गिर गया। हमले की सूचना पर कांट थाने से अतिरिक्त फोर्स भेजा गया, लेकिन तब तक मोहित व रनवीर के घर में आग लग गई। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची दमकल ने काबू पाया। आरोप है कि पुलिस कर्मियों ने आग लगाई। प्रभारी निरीक्षक राजेंद्र बहादुर सिंह ने किसी तरह स्थिति को संभाला।

प्रभारी निरीक्षक राजेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि प्रेमी जोड़े के घर में होने की सूचना पर हरदोई के थाना हरपालपुर थाने की पुलिस वारंट लेकर आई थी। कुर्रिया चौकी प्रभारी को साथ में भेजा गया था। वहांग्रामीणों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया। उनकी गाड़ी भी तोड़ दी। दारोगा का पिस्टल गिरने की जानकारी नहीं है। इसमें मौके पर बनाए गए वीडियो के आधार पर बवाल करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

Edited By: Samanvay Pandey