जेएनएन, बरेली : असंगठित क्षेत्र में बेरोजगारी के आंकड़े को लेकर प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य का अजीबो-गरीब बयान सामने आया है। उन्होंने कई तर्क देकर केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार की उस रिपोर्ट को खारिज करने की कोशिश की जो हाल ही में संसद सत्र में पेश की गई थी। इस रिपोर्ट में बताया गया था कि नोटबंदी के बाद से असंगठित क्षेत्र में बेरोजगारी का आंकड़ा 3.7 फीसद बढ़ गया है।

खारिज की केंद्रीय श्रम मंत्री की रिपोर्ट 

बरेली कॉलेज में रोजगार मेले का उद्घाटन करने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य से केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार की रिपोर्ट पर सवाल हुआ तो उन्होंने कहा कि वह रिपोर्ट पूरे देश की है। उत्तर प्रदेश में सबकुछ सही चल रहा है। यहां तेजी से रोजगार बढ़ा है। अपनी बात को सही साबित करने के लिए उन्होंने कई आंकड़े पेश करने की कोशिश की।

दो साल में निवेश हुए 125 हजार करोड़ 

 दो साल के अंदर प्रदेश में 125 हजार करोड़ रुपये के निवेश हो चुके हैं। इनमें से कई कंपनियों ने उत्पादन शुरू कर दिया है। इसमें भी बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार के अवसर मिले हैं। दूसरे चरण में 65 हजार करोड़ का निवेश हुआ है। जल्द ही ये कंपनियां भी काम शुरू कर देंगी। तीसरे चरण में 60 हजार करोड़ की निवेश की तैयारी पूरी हो चुकी है।

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस