बरेली, जेएनएन : महिला अस्पताल में बेटा होने पर ढाई हजार और बेटी पैदा होने पर डेढ़ हजार रुपये तय कर दिए गए हैं। कभी खुशी में तो कभी जबरन लोगों से रुपये वसूल कर ही लिए जाते हैं।

सुभाषनगर के मुहल्ला बंशी नगला निवासी जीतू के साथ हुआ है। जीतू ने अपनी गर्भवती पत्नी चांदनी को प्रसव पीड़ा होने पर कुछ दिन पहले महिला अस्पताल में भर्ती कराया था। जीतू ने बताया कि उसे डॉक्टर व स्टाफ ने ऑपरेशन बताया। इसके साथ ही उन्होंने यह भी तय कर लिया कि अगर बेटा होगा तो ढाई हजार रुपये देने होंगे, जिसमें एक हजार डॉक्टर के और बाकी स्टाफ के होंगे। अगर बेटी पैदा होती है तो यह रकम डेढ़ हजार रह जाएगी। वह इस पर राजी हो गया। 28 अगस्त को चांदनी ने बेटी को जन्म दिया। आरोप है कि बेटी के जन्म के बाद सभी उससे चाय-पानी के नाम पर रुपये मांगने लगे। इस पर उसने डॉक्टर को चार सौ रुपये और स्टाफ को पांच सौ रुपये दे दिए। जीतू ने बताया कि अगर शिकायत करता तो पत्नी की ठीक से देखभाल नहीं की जाती। जीतू का वीडियो वायरल हो रहा है।

किसी भी तीमारदार ने मुझसे रुपये मांगने की शिकायत नहीं की है। अगर कोई शिकायत करता है तो संबंधित के खिलाफ जांच कराकर सख्त कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल ओटी के स्टाफ को चेतावनी दी जाएगी। -डॉ. अलका शर्मा, सीएमएस 

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस