जेएनएन, बरेली : अमेरिका के यात्रियों को चूना लगाना टीटीई (ट्रेन टिकट परीक्षक) को महंगा पड़ गया। रेलवे ने जांच कराई तो साबित हुआ कि उन्होंने अनियमितता की। जिसके बाद गुरुवार को रेलवे ने उनके तबादले का आदेश जारी कर दिया। उन्हें बरेली सिटी से हटाकर हाथरस सिटी में तैनाती दी गई है। आरोपित टीटीई फरींद्र कुमार गौड़ से फौरन आवास खाली करने को भी कहा गया है।

घटनाक्रम 29 अक्टूबर का है। पांच अमेरिकी पर्यटक बाघ एक्सप्रेस से लखनऊ से नैनीताल जा रहे थे। इनके पास 28 अक्टूबर की यात्र के टिकट थे। हालांकि ऐसा ट्रेन के समय के कारण हुआ, क्योंकि इस ट्रेन के लखनऊ चारबाग स्टेशन से रवाना होने का वक्त 12:20 बजे था। पर्यटकों को 29 अक्टूबर की तारीख का टिकट लेना था। वे पुराने टिकट से ट्रेन में सवार हो गए। चेकिंग के दौरान टीटीई फरींद्र कुमार गौड़ ने पुराने टिकट पर कार्रवाई करनी चाही तो बहस हो गई।

पर्यटकों ने हरदोई से सामान्य टिकट खरीद लिया। बताते हैं कि इसी सामान्य टिकट पर टीटीई ने जुर्माना लगाकर उन्हें सीट दे दी। ट्रेन जब बरेली पहुंची तो यहां जंक्शन पर दूसरे टीटीई ने चेकिंग की। आरक्षित चार्ट में पर्यटकों के नाम न होने पर जुर्माने की बात कही। तब पर्यटकों ने बताया कि वह जुर्माना पहले अदा कर चुके हैं। टीटीई ने रसीद देखकर बताया कि वे जुर्माना से अधिक धनराशि दे चुके। इसी पर अमेरिकी पर्यटकों ने रेलवे को ट्वीट कर पूरा घटनाक्रम बताया। रेलवे से जांच और कार्रवाई के निर्देश हुए थे।

जांच में टीटीई के विरुद्ध अनियमितता के आरोप सही साबित हुए। उनके तबादले का आदेश जारी हो गया है।

- राजेंद्र सिंह, जन सूचना अधिकारी पूवरेत्तर रेलवे इज्जतनगर

 

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस