बरेली, जेएनएन। Shahjahanpur Weather News : चक्रवर्ती बारिश से किसानों के अरमानों पर वज्रपात हुआ है। जनपद में 12 घंटे के भीतर रिकॉर्ड 244 मिलीमीटर बारिश होने से धान समेत खरीफ की फसलें डूब गई है। कई मकान गिर गए हैं। सरकारी दफ्तरों और घरों में पानी घुस गया है। निगोही में 33 केवी बिजली घर पूरी तरह जलमग्न हो गया कंट्रोल पैनल के अंदर पानी घुस जाने से बड़ा नुकसान हुआ है। पूरे जिले की बिजली आपूर्ति व्यवस्था बेपटरी हो गई है। आम जनजीवन पूरी तरह अस्त व्यस्त हो गया है।

सोमवार शाम बूंदाबांदी के साथ शुरू बारिश ने रात 9 बजे बाद मूसलाधार रूप ले लिया। सबसे ज्यादा जलालाबाद व कलान में बारिश हुई। यहां करीब 50 साल का रिकॉर्ड तोड़ते हुए 12 घंटे के भीतर 244 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड हुई है। भावलखेड़ा के नियामतपुर गांव स्थित मौसम वेधशाला में भी 115 मिलीमीटर बारिश का आंकड़ा दर्ज हुआ। निगोही में करीब 130 मिलीमीटर बारिश हुई है। यहां 33 केवी बिजली घर जलमग्न हो गया ।कंट्रोल पैनल में पानी घुस जाने से बिजली आपूर्ति ठप करनी पड़ी। विभाग को बड़ा नुकसान भी हुआ है। तिलहर क्षेत्र में कई मकान गिर गए हैं। अन्य क्षेत्रों में भी मकान गिरे है। सड़कों पर मकान पेड़ गिर जाने से आवागमन बाधित हुआ है। शहर के निचले क्षेत्रो में भी घरों में पानी घुस गया। रात में लोगो को पानी निकालने के लोए विवश होना पड़ा।

बिजली बिजली लाइनों पर पेड़ गिरे, इंसुलेटर फुके आपूर्ति ठप

अत्यधिक भारी बारिश से बिजली लाइनों पर पेड़ भी गिर गए हैं । इससे 33केवी तथा 11 केवी लाइने क्षतिग्रस्त हो गई । नतीजतन पूरे जिले में बिजली संकट छा गया है । शहर में बिजलीपुरा ककरा अब्दुल्लागंज रोजा आदि क्षेत्रों की बिजली आपूर्ति बाधित है। जलालाबाद, कलान, मिर्जापुर, अल्लाहगंज, तिलहर, निगोही की बिजली आपूर्ति पूरी तरह ठप है। जलभराव के कारण लाइनों की मरम्मत का कार्य बाधित है।

जलालाबाद : 244.5 मिमी

भावलखेड़ा : 115 मिमी

Edited By: Ravi Mishra