बरेली, जेएनएन। Bareilly Crime News : स्मार्ट वाच सही कराना एक डाक्टर को महंगा पड़ गया। आरोप है कि आरोपित ने घड़ी सही करने के नाम पर घड़ी का आइडी और पासवर्ड मांगा। बाद में आरोपित तीन साथियों संग अन्य डाक्टरों के मोबाइलों में फोटो वायरल करने की धमकी देने लगा। मामले में इज्जतनगर पुलिस ने तहरीर के आधार पर दुकानदार व महिला डाक्टर के ससुराल पक्ष से जुड़े लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। इज्जतनगर की रहने वाली महिला डाक्टर ने बताया कि कुछ दिन पहले उनकी स्मार्ट वाच खराब हो गई थी। वाच मोबाइल से कनेक्ट थी।

वाच सही करने के लिए सिविल लाइंस निवासी रिश्तेदार दुकानदार को दी। आरोप है कि आरोपित ने वाच सही करने के नाम पर आइडी व पासवर्ड मांग लिया। तुरंत ही अश्लील फोटो होने की जानकारी दी और डिलीट करने की बात कही। आरोप है कि इसी के बाद महिला के ससुराल पक्ष के लोगों ने भी रंजिश के चलते दुकानदार का साथ दिया और फोटो वायरल करने की धमकी देकर रंगदारी मांगने लगे। महिला डाक्टर ने कुछ दिन पूर्व ही अपने पति व उनके परिवार के साथ भतीजे पर छेड़खानी का भी मुकदमा दर्ज कराया था। इज्जतनगर इंस्पेक्टर संजय कुमार ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जांच में सामने आए तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

चलती ट्रेन पकड़ते समय युवक का पैर फिसला : चलती ट्रेन में चढ़ते समय पैर फिसल जाने से एक युवक की मौत हो गई। सूचना पर पहुंची जीआरपी ने शव की शिनाख्त शैलेष यादव निवासी डिफेंस कालोनी इज्जतनगर के रूप में की। जीआरपी प्रभारी निरीक्षक अमीराम सिंह ने बताया कि शैलेष के पिता चंद्रिका सिंह रेलवे में लोको पायलट के पद से सेवानिवृत्त थे। बुधवार देर शाम वह लखनऊ की ओर जानवर खरीदने के लिए घर से निकला था। उसके साथ तीन से चार साथी और थे। प्रयागराज संगम उद्योग नगरी हरिद्वार से जाने के सभी साथी पहले ही ट्रेन में चढ़ गए। लेकिन शैलेष ट्रेन में चढ़ ही रहा था कि ट्रेन चलने लगी, इस दौरान शैलेष का पैर फिसल गया और उसी ट्रेन की चपेट में आने से मौके पर ही मौत हो गई।

Edited By: Samanvay Pandey