जेएनएन, बरेली : दिन में खरीदार बनकर भैंस की रेकी कर फिर रात होते ही चोरी करने वाले गैंग के तीन बदमाशों को कैंट पुलिस ने शुक्रवार रात धर दबोचा। पुलिस ने उनके पास से चोरी की दो भैंस के साथ ही 1.11 लाख की नकदी समेत पिकअप लोडर भी बरामद किया है। पुलिस ने चार भैंस चोरी का खुलासा किया है।

बुधवार रात को बुखारा के अजय पटेल व कांधरपुर डिफेंस कॉलोनी की सावित्री की भैंस चोरी हो गई। इधर जहां भी भैंस चोरी हो रही थी वहां चार पहिया वाहन के निशान बने होते थे। इस पर पुलिस ने वाहन चेकिंग अभियान चलाया। इसी दौरान कैंट इंस्पेक्टर देवेंद्र सिंह को सूचना मिली कि कांधरपुर व बुखारा में भैंस चोरी को अंजाम देने वाला गैंग पिकप लोडर पर भैंस लेकर भौआपुर से कहीं जा रहे हैं। दारोगा प्रवीण सिंह व रमाकांत ने फोर्स के साथ पालपुर क्रासिंग के पास घेराबंदी करा दी व दो भैंस समेत पिकप सवार युवकों को दबोचा और पूछताछ की तो उन्होंने चोरी की बात कबूल कर ली। पकड़े गए बदमाशों ने अपना नाम जरीफ पुत्र बीरबल बंजारा निवासी कैराना जिला शामली हालपता बड़ी विहार इज्जतनगर, सद्दाम पुत्र अनवर कुरैशी निवासी पदारथपुर बिथरी चैनपुर, नवाब पुत्र झंडू बंजारा निवासी बड़ी विहार इज्जतनगर बताया। उनके पास से पुलिस ने 1.11 लाख रुपये नकद भी बरामद किए। हालांकि बदमाशों का कहना है कि वह तो भैंस का इलाज कराने जा रहे थे।

तथ्य

भैंस देखकर मालिक से करते थे मोल भाव, तीन भैंस चोर गिरफ्तार, 1.11 लाख नकदी और पिकअप लोडर बरामद

Posted By: Jagran