हिमांशु मिश्र, बरेली : खेल प्रेमियों के लिए खुशखबरी है। जसौली के रहने वाले 19 वर्षीय अभिषेक मौर्या 24 से 27 अक्टूबर तक फ्लोरिडा, यूएसए में होने वाले बायथल और ट्रायथल वल्र्ड चैंपियनशिप में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे। 19 अक्टूबर को वह यहां से मुंबई के लिए निकलेंगे। इस खेल में स्वीमिंग संग दौड़ और हायर लेजर गन से शूटिंग होती है। भारतीय टीम के लिए माडर्न पेंटाथेलॉन फेडरेशन ऑफ इंडिया ने कुल 16 खिलाड़ियों का चयन किया है। अभिषेक शहर के इकलौते खिलाड़ी हैं, जिन्होंने इस खेल में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मुकाम हासिल किया है। वह यहां डॉ. बीआर अंबेडकर कॉलेज से 12वीं की पढ़ाई कर रहे हैं। पिता मुन्ना लाल मौर्या एसबीआइ बैंक में एडवाइजर और मां किरण गृहणी हैं।

एशियन गेम्स में कांस्य से चूके थे अभिषेक

अभिषेक स्वीमिंग की छह नेशनल चैंपियनशिप में जलवा बिखेर चुके हैं। इसी साल 28 जून से एक जुलाई के बीच कजाकिस्तान में आयोजित एशियन गेम्स में उन्होंने देश का प्रतिनिधित्व किया था। तब महज कुछ माइक्रो सेकेंड से कांस्य पदक लाने से चूक गए थे। वह बताते हैं कि 2012 में जब वह कक्षा पांचवी में पढ़ रहे थे तभी से उन्होंने स्वीमिंग करना शुरू कर दिया था।

2017 से की बायथल व ट्रायथल की शुरूआत

 अभिषेक बताते हैं कि 2017 में उन्हें बायथल और ट्रायथल के बारे में जानकारी हुई। चूंकि यह खेल स्वीमिंग से जुड़ा हुआ था इसलिए उन्हें काफी अच्छा लगा। उसके बाद से इसकी ट्रेनिंग शुरू कर दी। पहले दौड़ लगाते फिर स्वीमिंग करते और फिर निशाना साधते। तीनों काम एक साथ करने की आदत डाली।

दस साल पहले ही भारत में आया यह है खेल

अभिषेक कहते हैं कि भारत में अभी यह खेल नया है। दस साल पहले ही यहां इसकी शुरूआत हुई। बायथल में स्वीमिंग के साथ दौड़ लगाना पड़ता है जबकि ट्रायथल में स्वीमिंग के साथ दौड़ और फिर हायर लेजर गन से शूटिंग करनी होती है। तीनों विधाओं में जो बेहतर करेगा वही विजेता होता है।

वल्र्ड चैंपियनशिप

बायथल और ट्रायथल वल्र्ड चैंपियनशिप में करेंगे भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व

इन खेलों में पदक जीत चुके हैं

नेशनल बायथल, ट्रायथल चैंपियनशिप, पुणो 2019 में सिल्वर

सीबीएसई ईस्ट जोन दुर्गापुर में गोल्ड

ईस्ट जोन, रांची में दो सिल्वर और एक कांस्य

माडर्न पेंटाथेलॉन फेडरेशन ऑफ इंडिया एक रजिस्टर्ड फेडरेशन है। यह फेडरेशन भारतीय ओलंपिक संघ का सदस्य है। बायथल, ट्रायथल खेल भारत में नया है इसलिए लोगों के बीच इसका ज्यादा प्रचलन नहीं है। इसकी टीम फ्लोरिडा भेजी जा रही है। इसमें अभिषेक का नाम शामिल है।

रविकांत मिश्र, विशिष्ट सदस्य, यूपी ओलंपिक एसोसिएशन व लक्ष्मण अवॉर्डी

 

Posted By: Abhishek Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप