बरेली, जेएनएन। Marks Improvement Exam : परीक्षा परिणाम से संतुष्ट न होने वाले छात्र-छात्राओं के लिए शनिवार से सुधारात्मक परीक्षा शुरू हो गयीं। कोविड से बचाव को जिले भर में 24 केंद्र बनाए गए हैं, ताकि शारीरिक दूरी के साथ परीक्षा आयोजित कराई जा सकें। परिणाम से नाखुश दसवीं और बारहवीं के 1961 बच्चों ने अंक सुधार को परीक्षा के लिए आवेदन किया था। सुबह से ही सभी केंद्रों पर मास्क और अपने साथ सैनिटाइजर लेकर विद्यार्थी पहुंचते रहे। लगभग सभी केंद्रों पर किसी न किसी कारणवश कुछ परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। अच्छे अंक पाने की आशा छात्रों के चेहरे पर साफ झलक रही थी।

कंट्रोल रूम से प्रत्येक केंद्रों की हो रही निगरानी

क्षेत्रीय सचिव राकेश कुमार ने बताया कि जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में सभी केंद्रों की निगरानी के लिए कंट्रोल बनाया गया है। जहां से समय-समय पर हर गतिविधि का जायजा लिया जा रहा है। इसके अलावा नकल विहीन परीक्षा के लिए पांच सचल दल टीम गठित की गई है। जो सभी केंद्रों पर औचक निरीक्षण कर स्थिति को परख रही है। उन्होंने बताया कि अगर परीक्षार्थी के इस परीक्षा में अंक मूल परीक्षा से कम आते है तो उसका परिणाम मूल परीक्षा वाला ही होगा। वहीं अगर छात्र इस परीक्षा में मूल परीक्षा से ज्यादा अंक लेकर आता है तो उसका नया रिजल्ट जारी किया जाएगा।

नकल विहीन परीक्षा की तैयारियों पर एक नजर

कुल परीक्षा केंद्र - 24

केंद्र व्यवस्थापक- 24

सेक्टर मजिस्ट्रेट - 06

स्टेटिक मजिस्ट्रेट - 17

कक्षा निरीक्षक (स्वंय के) 90

कक्ष निरीक्षक (वाहय) 108

परीक्षार्थी हाईस्कूल - 955

परीक्षार्थी इंटरमीडिएट - 1006

कुल परीक्षार्थी - 1961

मानिटरिंग कंट्रोल रूम - 01

सचल दल - 05 

पीलीभीत में 31 छात्राें ने छाेड़ी परीक्षा

यूपी बोर्ड की अंक सुधार परीक्षा का आयोजन जनपद में शनिवार को चार परीक्षा केंद्रों पर किया गया। पहली पाली में 31 परीक्षार्थी गैरहाजिर रहे। जनपद में अंक सुधार के लिए कुल 203 परीक्षार्थियों ने पंजीकरण कराया है। जिनमें पहली पाली में

172 परीक्षार्थी शामिल हुए हैं। जिला मुख्यालय स्थित ड्रमंड राजकीय इंटर कालेज, राजकीय बालिका इंटर कालेज पूरनपुर, राजकीय इंटर कालेज अमरिया तथा एसआरएम इंटर कालेज बीसलपुर परीक्षा केंद्रों पर सेक्टर मजिस्ट्रटों की निगरानी में परीक्षा शुरू की गई। कोविड-19 प्रोटोकाल के नियमों का पालन करते परीक्षार्थियों को शारीरिक दूरी का पालन करते हुए बिठाया गया है। जिला विद्यालय निरीक्षक ओमप्रकाश ने पहली पाली में ड्रमंड राजकीय इंटर कालेज तथा राजकीय बालिका इंटर कालेज पूरनपुर में निरीक्षण किया। 

Edited By: Ravi Mishra