बरेली, जेएनएन : डीएम वीरेंद्र कुमार सिंह द्वारा वित्तीय अधिकार सीज करने की संस्तुति के बाद शासन ने नवाबगंज नगर पालिका परिषद की अध्यक्ष शहला ताहिर को कारण बताओ नोटिस जारी किया था लेकिन उन्होंने जवाब नहीं दिया। इसलिए अब शासन ने दोबारा शहला को नोटिस देकर तीन दिन में जवाब मांगा है। अधिकारियों का कहना है कि नवाबगंज तहसीलदार को इस नोटिस को तुरंत शहला ताहिर को तामील कराने के निर्देश दिए गए हैं। एडीएम प्रशासन रामसेवक द्विवेदी का कहना है कि शहला ताहिर ने शासन की नोटिस का जवाब नहीं दिया। इसलिए शासन ने नोटिस जारी करके तीन दिन में कारण बताओ नोटिस का जवाब मांगा है।

यह भी पढ़ें : शहला ने एक करोड़ से ज्यादा रुपये निकालेwww.jagran.com/uttar-pradesh/bareilly-city-shehla-withdraws-more-than-one-crore-rupees-bareilly-news-19487745.html

अध्यक्ष के पति पर सफाई कर्मचारियों ने लगाया अभद्रता का आरोप

शहला ताहिर के पति मोहम्मद ताहिर पर सफाई कर्मचारियों ने अभद्रता का आरोप लगाया है। सफाई कर्मचारी महेंद्र पाल ने आरोप लगाया है कि बुधवार को शहला ताहिर के पति ने अपने कार्यालय में उनको और उनके दो साथियों को बुलाया और उनसे अभद्रता की।

यह भी पढ़ें : लखनऊ पहुंचकर अटक रहा संगीन इल्जामों का मामला, बढ़ी रार www.jagran.com/uttar-pradesh/bareilly-city-the-case-of-serious-chargesis-stuck-in-lucknow-bareilly-news-19477348.html

उनका आरोप है कि शहला ताहिर के पति ने बाद में धक्के मारकर उनको और साथियों को कार्यालय के बाहर निकलवा दिया। यह वाकया उस समय का है जब वे अपने साथियों के साथ अपनी मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहे थे। उनका कहना है कि वह लोग एफआइआर दर्ज करवाने के लिए भी थाने गए थे लेकिन उनकी एफआइआर दर्ज नहीं की गई।

Posted By: Abhishek Pandey