जेएनएन, बरेली : वाल्मीकि परिवार को बर्तन न देने वाला टेंट हाउस मालिक मुकदमा दर्ज होने के बाद से फरार है। पुलिस ने देर रात शिकायत मिलने पर एससीएसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया था। रविवार को मनोज वाल्मीकि की बहन की गोद भराई की रस्म पूरी हो गई। इस घटना से वाल्मीकि समाज के लोगों में गुस्सा है। सीओ ने जल्द आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेजे जाने की बात कही है।

गांव नौगवां निवासी मनोज कुमार वाल्मीकि के घर रविवार को बहन की गोद भराई की रस्म होनी थी। मनोज टेंट का सामान लेने के लिए गांव की ही मुश्ताक टैंट हाउस पर पहुंचे। आरोप है कि टेंट हाउस मालिक इकबाल ने उन्हें बर्तन आदि सामान देने से यह कहते हुए मना कर दिया कि मेरी दुकान से वाल्मीकियों के घर में आयोजन के लिए कोई भी सामान नहीं जाता है।

मनोज ने विरोध किया तो टेंट मालिक ने जाति सूचक शब्दों का प्रयोग किया कर भगा दिया। जिस पर समाज के लोगों ने विचार विमर्श किया। शाम को मनोज कई ग्रामीणों के साथ तहरीर लेकर कोतवाली पहुंचे। जिसके बाद रात को एससीएसटी का मुकदमा दर्ज कर लिया। रविवार को मनोज की बहन आरती की गोद भराई की रस्म हो गई। मनोज ने बताया दूसरे टेंट हाउस से सारा इंतजाम किया गया।

छह माह पहले खोला था टेंट हाउस : मुकदमा दर्ज होने के बाद आरोपित टेंट मालिक इकबाल फरार है। उसने नौगवां में छह माह पहले टेंट हाउस खोला था। फिलहाल, सीओ इस प्रकरण की जांच कर रहे हैं। पुलिस जब गांव पहुंची तो इकबाल के परिजनों ने बताया कि बर्तन दूसरी जगह बुकिंग पर गए थे इसलिए मना किया था। इसी बात पर मुकेश से विवाद हुआ।

ऐसे कृत्य करने वालों पर दंडात्मक कार्रवाई होनी चाहिए। इस मामले में अधिकारियों से बात की जाएगी।

- डॉ. श्यामबिहारी लाल, विधायक फरीदपुर

मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पूरे प्रकरण की जांच की जा रही है। आरोपित को पकड़कर जेल भेजा जाएगा।

- नागेंद्र यादव, सीओ फरीदपुर

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस