बरेली, जेएनएन। कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच में भी दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में आयोजित तब्लीगी जमात में शामिल लोगों की उत्तर प्रदेश में तलाश तेज है। सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर हो रही इनकी तलाश के बीच में आज दोपहर में बरेली में पुलिस पर हमला बोला गया। जमातियों के एक जगह पर एकत्र होने की सूचना पर पहुंचे दो सिपाहियों को पीटने के बाद करीब दो सौ लोग एकत्र हो गए और पुलिस चौकी फूंकने का प्रयास किया गया। जिस पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर भीड़ को खदेड़ा। इस घटना के बाद से गांव पीएसी समेत भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है। गांव में ड्रोन कैमरे से निगरानी की जा रही है। 

बरेली के इज्जत नगर क्षेत्र के गांव करमपुर चौधरी में तब्लीगी जमात से जुड़े लोग होने की सूचना पर दिन में करीब एक बजे दो सिपाही पहुंचे थे। यहां यह दोनों सिपाही तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों की जानकारी कर रहे थे। इसी बीच कुछ ग्रामीणों ने कोई भी जानकारी देने से इनकार करने के बाद सिपाहियों से हाथापाई की। इसके बाद भी दोनों सिपाही वहां से दो लोगों को लेकर पुलिस बैरियर वन चौकी ले आए। दो लोगों को ले जाने की सूचना पर दोपहर करीब तीन बजे ग्राम प्रधान तसब्बुर खान के नेतृत्व में करीब 200 लोग चौकी पर पहुंच गए और चौकी जलाने का प्रयास किया। इसकी सूचना पर सीओ तृतीय आइपीएस अधिकारी अभिषेक वर्मा मौके पर पहुंचे तो उनसे भी हाथापाई की गई। इसके बाद में पुलिस ने लाठियां चला कर भीड़ को भगाया। इस दौरान मौके से 14 लोगों को पकड़ लिया गया है। गांव व चौकी पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दी गई है। बवाल करने वालों पर सख्त कार्रवाई की तैयारी है। यह सभी लोग तब्लीगी जमात के नहीं हैं मगर उन लोगों को तलाशने की बात पर हमलावर हो गए। हमले में आईपीएस अभिषेक वर्मा के पैर में चोटें आई हैं। इस मामले में पुलिस ने 40-50 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। अब सभी के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की जा रही है।

आईपीएस अधिकारी अभिषेक वर्मा ने बताया कि पुलिस लॉकडाउन का पालन करवाने पहुंचे थे। जिन पर हमला हुआ। इसके बाद पुलिस फोर्स ने सख्ती दिखाते हुए सभी को खदेड़ा। कुछ लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। अभिषेक वर्मा ने बताया कि उन्हें मामूली चोट आई है। एक सिपाही भी घायल हुआ है। अभिषेक वर्मा ने बताया कि फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। उन्होंने कहा कि उपद्रवियों से सख्ती से निपटा जाएगा।

ताश खेलने के लिए इकट्ठा हुई थी भीड़

पुलिस को सूचना मिली थी कि गांव में लॉकडाउन के दौरान कुछ लोग सड़क के किनारे इकठ्ठा होकर ताश खेल रहे हैं। दो सिपाही मौके पर पहुंचे और उन्हें लॉकडाउन के दौरान एक जगह इकट्ठा होने पर टोका। जिसके बाद वहां मौजूद लोग भड़क गए और दोनों पर ईंट-पत्थर से हमला कर दिया। इसके बाद थाने पर हमले की सूचना दी गई। पुलिस टीम पर हमले की सूचना मिलते ही एसपी ग्रामीण अभिषेक वर्मा फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे. तब तक सैकड़ों की भीड़ इकट्ठा हो चुकी थी। उन्होंने पुलिस पर हमला कर दिया। इसके बाद पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए लाठीचार्ज कर दिया। उपद्रव कर रहे लोगों को जमकर पीटा। साथ ही लाठी फटकराते हुए भीड़ को खदेड़ा। पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया है। 

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस