शाहजहांपुर, जेएनएन। श्रमिकों को लेकर शाहजहांपुर पहुंची ट्रेन में लोगों को पानी के लिए परेशान होना पड़ा। लोगों ने पानी की व्यवस्था कराने के लिए सुरक्षाकर्मियों व रेलवे के अधिकारियों से भी कहा लेकिन स्टेशन परिसर में पानी की व्यवस्था नहीं हो पाई। करीब दस मिनट ट्रेन खड़ी रहने के बाद हरदोई के लिए रवाना कर दिया।

दूसरे राज्यों से श्रमिकों को स्पेशल ट्रेन चलाकर पहुंचाया जा रहा है। बुधवार को भी सहारनपुर से दो ट्रेनें शाहजहांपुर होते हुए लखनऊ के लिए निकली। अपराहन दो बजे जो ट्रेन शाहजहांपुर स्टेशन पर रोकी गई थी उसमे शाहजहांपुर का कोई भी व्यक्ति नहीं था। ऐसे में कोच का दरवाजा नहीं खोला गया। लेकिन भीषण गर्मी में लोग पानी के लिए बेहाल नजर आए।

ट्रेन में भी पानी की व्यवस्था न होने की वजह से लोगों ने स्टेशन परिसर में ड्यूटी पर तैनात जीआरपी व आरपीएफ के सिपाहियों के रेलवे के कर्मचारियों से कोच का दरवाजा खोलने की गुहार लगाई। लेकिन समय का हवाला देते हुए कर्मचारियों ने ऐसा करने से मना कर दिया। करीब दस मिनट बाद ट्रेन को लखनऊ के लिए रवाना कर दिया गया।

शाम को पहुंची ट्रेन से उतरे श्रमिक

बुधवार शाम को जो ट्रेन सहारनपुर से शाहजहांपुर पहुंची उसमे श्रमिकों को उतारा गया। जिसमे शाहजहांपुर के अलावा, पीलीभीत व लखीमपुर जिले के भी लोग शामिल थे। प्रशासन ने सभी की थर्मल स्क्रीनिंग कराई इसके बाद सभी को सुरक्षित बसों से उनके घरों के लिए रवाना कर दिया।

दोपहर में जो ट्रेन आई थी उसमे शाहजहांपुर का कोई श्रमिक नहीं था। जिस वजह से कोच के दरवाजे नहीं खोले गए थे क्योंकि ऐसा करने से भीड़ अधिक लग जाती है।

मनोज कुमार, स्टेशन अधीक्षक

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप