बरेली, जेएनएन। इलाज के दौरान देर रात महिला की मौत हो गई। स्वजन ने डॉक्टर पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए इमरजेंसी में हंगामा किया। वहां तोड़फोड़ भी की। पुलिस के लाठियां फटकारने पर लोग शांत हुए। तीन आरोपितों कोको पुलिस ने हिरासत में लिया है।

शाहजहांपुर के रोजा थाना क्षेत्र के आदर्श नगर कॉलोनी निवासी सोनपाल की पत्नी दीपासना देवी को सांस लेने में दिक्कत हो रही रही थी। मंगलवार- बुधवार रात करीब एक बजे तबीयत बिगड़ने पर उन्हें राजकीय मेडिकल कालेज लेकर पहुंचे। जहां उपचार के दौरान रात करीब दो बजे मौत हो। स्वजन ने डॉक्टर पर इलाज में लापरवाही करने का आरोप लगाते हुए हंगामा करना शुरू कर दिया। इमरजेंसी में तोड़फोड़ भी की।

हंगामे की सूचना पर एएसपी सिटी संजय कुमार व चौक कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। हंगामा कर रहे स्वजन को शांत कराने का प्रयास किया लेकिन पुलिस के सामने भी तोड़फोड़ बन्द नही की। ऐसे में पुलिस को लाठियां फटकार कर सभी को बाहर निकालना पड़ा। पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में ले किया। जबकि शव को मोर्चरी में रखवा दिया। बुधवार सुबह करीब चार बजे स्थिति सामान्य हो सकी। 

सीएमएस डॉ. एयूपी सिन्हा ने बताया कि जिस समय स्वजन अस्पताल में मरीज को लेकर आये थे तब उनकी हालत ज्यादा खराब थी। तत्काल उपचार शुरू करा दिया गया था। लेकिन उसके बावजूद महिला के स्वजन स्वास्थ्य कर्मियों के साथ अभद्रता करने लगे।  मामले में कार्रवाई कराई जा रही है। एएसपी सिटी संजय कुमार ने बताया कि स्वास्थ्यकर्मियों की तहरीर का इंतजार है। जो तहरीर आएगी। उसी के अनुसार मुकदमा दर्कराकर आगे की  कार्रवाई की जाएगी। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप