बरेली, जेएनएन। बरेली के रामगंंगा नगर आवासीय योजना में गुरुवार को दोपहर बीडीए की टीम अतिक्रमण हटाने पहुंची। जहां टीम को देखते ही स्थानीय  लोगों ने हंगामा करना शुरु कर दिया। जिसके बाद इलाके में मार्किंग करने जा रहे अधीक्षण अभियंता राजीव दीक्षित से महिलाओं ने धक्का मुक्की कर दी। यह देख मौके पर मौजूद फोर्स ने स्थिति को संभाला। जिसके बाद बीडीए ने अपना अभियान कुछ देर के लिए रोक दिया है। हालांकि लोगों का कहना है कि बीडीए ने जमीनी हकीकत देखे बिना ही अधिग्रहण किया है। गौरतलब है कि बीडीए ने चंद्रपुर बिचपुरी में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की थी। जिसके दौरान लोगों ने काफी विरोध किया था। चंद बिचपुरी में बीडीए की कार्रवाई पर काफी हंगामा हुुआ था। यहां पर अवैध रूप से बनी एक मजार पर बीडीए ने बुलडोजर चलाया था। इसके बाद यहां के लोगों ने विरोध जताया था। इतना ही नहीं विरोध के लिए सैकड़ों लोग यहां पर एकत्रित हो गए थे और बीडीए से मजार बनाने की मांग करने लगे थे। माहौल खराब होता देख प्रशासन ने यहां पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया था। दरअसल जबसे नए बीडीए वीसी जोगिंदर सिंह आए हैं। तब से शहर के अवैध निर्माणों पर जमकर बीडीए का बुलडोजर चल रहा है। इसको लेकर अवैध निर्माण करने वालों ने विरोध भी जताया लेकिन बीडीए की कार्रवाई अभी भी जारी है। वहीं बीडीए ने कार्रवाई के दौरान काफी राजस्व भी अर्जित किया है। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप