बरेली, जेएनएन : आला हजरत खानदान की बहू रहीं निदा खान के पिता मुसर्रतयार खान के साथ शुक्रवार को टिल्लू और एक अज्ञात व्यक्ति ने श्यामगंज की सब्जी मंडी के पास अभद्रता की। उन्हें रोककर पूछा कि इस्लाम से खारिज करने के फतवे पर मुकदमा दर्ज कराकर मौलाना का क्या बिगाड़ लिया? गाली-गलौज कर निदा खान के लिए अमर्यादित भाषा का उपयोग किया।

घटना से आहत निदा खान ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को ट्वीट कर फतवे के कारण सामाजिक बहिष्कार की मुश्किलों से अवगत कराया और न्याय मांगा है। पिछले साल 17 जुलाई को निदा के खिलाफ इस्लाम से खारिज करने का फतवा जारी हुआ था। एक बार में तीन तलाक, हलाला और फतवा, ये ऐसे मुद्दे हैं जिन पर मुस्लिम समाज के लोग सामान्य तौर पर बोलने से कतराते हैं। निदा खान ने इन पर रोक की आवाज उठाई। इसी आवाज को दबाने के लिए उनके खिलाफ इस्लाम से खारिज करने का फतवा जारी किया हुआ था।

प्रधानमंत्री को ट्वीट 

घटना से आहत निदा खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ट्वीट किया। लिखा, ‘मेरे खिलाफ फतवा जारी हुए एक साल हो गया, जो मेरे मानवाधिकार का हनन है। कोई कार्रवाई नहीं हुई। सामाजिक बहिष्कार के कारण मेरा परिवार मुश्किलों का सामना कर रहा है। हम लोकतंत्र में रहना चाहते हैं, हमें न्याय चाहिए।’

कौन हैं निदा खान

निदा खान की शादी आला हजरत खानदान के शीरान रजा खां से वर्ष 2015 में हुई थी। शादी के पहले साल दोनों में विवाद हो गया जिसके बाद उन्हें तलाक कह दिया गया। अब यह प्रकरण कोर्ट में चल रहा है।

खुराफातियों के हौसले बुलंद

दरगाह आला हजरत खानदान की बहू रहीं निदा खान ने कहा क‍ि आए दिन परिवार के साथ ऐसी घटनाएं हो रही हैं। कुछ में मुकदमा भी दर्ज कराया मगर पुलिस कार्रवाई नहीं करती। इससे खुराफातियों के हौसले बुलंद हैं। कोर्ट-कचहरी और पुलिस में शिकायतें कर थक चुके हैं।

समन ताहिर ने जताया खतरा

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी से बरेली लोकसभा की प्रत्याशी रह चुकीं समन ताहिर ने भी अपने विरोधियों से खतरे की आशंका जताई है। इसको लेकर उन्होंने सीएम से सुरक्षा की गुहार लगाई है। सीएम कार्यालय की तरफ से संज्ञान लेने के बाद प्रशासन ने भी इस मामले में कार्रवाई तेज कर दी है। समन ताहिर की मां शहला ताहिर ने बताया कि सुरक्षा को लेकर समन ताहिर पिछले दिनों सीएम से मिली थीं। उन्होंने राजनीति में सक्रियता के चलते विरोधियों से खतरा बताया था। इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस पर विचार करने का अश्वासन दिया था। समन ताहिर ने 9 मई को सुरक्षा के लिए दो गनर देने का आवेदन किया था। एडीएम सिटी महेंद्र कुमार सिंह ने एसएसपी को पत्र लिखकर कहा है कि वह इस मामले की जांच कर रिपोर्ट मुहैया कराएं।

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस