बरेली, जेएनएन। PM Modi Man ki Baat : मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लखीमपुर खीरी के राजेश कुमार प्रजापति से बात की। राजेश को हार्ट अटैक हुआ था। बरेली के श्री राम मूर्ति मेडिकल कालेज में उनका इलाज हुआ। आयुष्मान भारत योजना के बारे में प्रधानमंत्री ने उनसे बात की तो बोले, कार्ड होने से एक भी रुपया खर्च नहीं हुआ। कई गरीबों को इस तरह फ्री इलाज मिल रहा। कार्ड न होता तो इलाज कराना कठिन था। इस योजना से बड़ी मदद मिली। प्रधानमंत्री ने उनसे कहा कि अन्य गरीबों को भी योजना के प्रति जागरुक कर कार्ड बनवाएं।

राजेश ने प्रधानमंत्री को बताया कि मुझे सीने में जलन होती थी। पहले डॉक्टर ने कहा तुम्हे एसिडिटी की शिकायत है। कुछ दिन इसकी दवा चली लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। इसके बाद मैंने बरेली के श्रीराम मूर्ति अस्पताल में दिखाया। वहां के डॉक्टरों ने बताया कि एंजियोग्राफी होगी, उसके बाद ही कुछ कह सकते हैं। एंजियोग्राफी की, जिसमें नसों में ब्लाकेज निकला। इस पर डॉक्टर ने इलाज का लंबा चौड़ा खर्चा बताया। फिर खुद ही पूछा कि क्या तुम्हारे पास आयुष्मान कार्ड है। मैंने कहा हां है। इसके बाद उसी कार्ड की बदौलत मेरा पूरा इलाज हुआ और एक रुपया भी जेब से नहीं देना पड़ा।

राजेश ने पीएम को धन्यवाद देते हुए कहा कि आपने बहुत अच्छा कार्ड बनाया है। इससे गरीबों को काफी सहूलियत हुई है।पीएम मोदी ने राजेश से बाद में उनके कामकाज और पूरे परिवार के बारे में जानकारी हासिल की। राजेश ने जब पीएम मोदी को सत्ता में रहने की शुभकामनाएं दींं तो प्रधानमंत्री ने कहा कि देखिए मैं सत्ता में नहीं हूं, मैं आप लोगों की सेवा में हूं। अब आप खुद मेरे एक अच्छे साथी बनकर लोगों को आयुष्मान कार्ड के बारे में बताएं, घर-घर तक अपनी बात पहुंचाएं।

Edited By: Samanvay Pandey