बरेली, जेएनएन। Postal department special cancellation campaign : अतंरराष्ट्रीय योग दिवस पर 21 जून को डाक विभाग योग के महत्व को लोगों तक पहुंचाने के लिए विशेष रद्दीकरण ला रहा है। प्रधान डाकघरों में इस विशेष निरस्तीकरण को सचित्र डिजाईन के साथ जारी किया जाएगा। यह अबतक का सबसे बड़ा एक साथ डाक टिकट संग्रह स्मृति होगा। सभी वितरण व वितरण रहित डाकघर दिनांक 21 जून को डाकघर में बुक होने वाले सभी डाक पर इस विशेष निरस्तीकरण को लगाया जाएगा।

कोविड-19 को देखते हुए सातवें योग दिवस पर शिविर का आयोजन नहीं किया जाएगा। इस दिन डाकघर में प्राप्त डाक व वितरण के लिए जानेवाले डाक पर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का सचित्र डिजाईन युक्त विशेष निरस्तीकरण लगाया जाएगा। भारत के 810 प्रधान डाकघरों में जारी किया जाएगा स्पेशल कैंसिलेशन डाक विभाग द्वारा 21 जून अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर एक विशेष रद्दीकरण जारी किया जा रहा है। यह योग दिवस के स्मरणोत्सव को चिन्हित करेगा।

रद्दीकरण मूल्यवान संग्रहणीय : विशेष सचित्र रद्दीकरण टिकट एक स्याही अंकन या छाप होगा। जिसमें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के साथ एक ग्राफिकल डिजाइन लिखा होगा। हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में रद्दीकरण जारी किया जाएगा। रद्दीकरण को डाक मार्किंग के रूप में परिभाषित किया जाता है। जिसका उपयोग स्टैम्प के पुन: उपयोग को रोकने के लिए किया जाता है। इस तरह के रद्दीकरण मूल्यवान संग्रहणीय हैं और अक्सर डाक टिकट के अध्ययन के विषय हैं।

दो सौ रुपये में खोल सकते हैं डाक टिकट जमा खाता : कोई भी व्यक्ति देश के किसी भी प्रधान डाकघर में 200 रुपये जमा करे आसानी से डाक टिकट जमा खाता खोल सकता है और टिकट और विशेष करव जैसी चीजें प्राप्त कर सकता है। वर्ष 2015 में डाक विभाग ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर दो डाक टिकटों का एक सेट और एक लघु पत्रक निकाला। वर्ष 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग के दूसरे अंतरराष्ट्रीय दिवस के अवसर पर सूर्य नमस्कार पर स्मारक डाक टिकट जारी किया। इस वर्ष कोरोना महामारी को देखते हुए अधिकांश कार्यक्रम वस्तुत: इस वर्ष के मुख्य विषय योग के साथ रहें, घर पर रहें को बढ़ावा देते हुए होंगे।

Edited By: Samanvay Pandey