मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

बरेली, जेएनएन। भारतीय जनता पार्टी के बिथरी चैनपुर से विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल का नाम लेकर वायरल ऑडियो सुर्खियों में है। विधायक को धमकी वाले इस वॉयरल ऑडियो की पुलिस जांच करेगी। इस ऑडियो में विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल को जान से मारने की धमकी की बात कही गई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

अब तक विधायक की पुत्री साक्षी मिश्रा खुद की जान को खतरा बता रहीं थीं, नया मामला यह है कि उनके पिता की हत्या कराने की धमकी से जुड़ा एक ऑडियो वायरल हुआ है। पुलिस ने उसकी जांच शुरू कर दी। इस बाबत विधायक राजेश मिश्रा ने कहा कि अधिकारी खुद तय करें कि उन्हें क्या करना है। हमने सुरक्षा को लेकर कोई मांग नहीं की है। ऑडियो की हकीकत जानने के लिए खुफिया टीम भी लगाई गई। पुलिस को एक फोन रिकॉर्डिग मिली है, जिसमें दो लोग बात कर रहे। उनमें एक शख्स दूसरे को बता रहा कि अरमान गौरव से जुड़े लोग एक जगह शराब पी रहे थे। वे कह रहे थे कि गौरव तो विधायक जी की हत्या कराने की धमकी दे रहा था, बमुश्किल उसे समझाया। हवाला देते हुए बात करने वाले ने फोन पर मौजूद दूसरे शख्स से कहा कि यह घटनाक्रम रविवार का है जब गौरव का चालान किया गया।

गौरव की भूमिका तलाश रही पुलिस

दरअसल, बीडीसी सदस्य गौरव सिंह अरमान और विधायक पप्पू भरतौल के पुराने संबंध थे मगर कुछ दिनों से अनबन हो गई। साक्षी प्रेम विवाह प्रकरण के बाद विधायक ने इशारा किया था कि कुछ अपनों का हाथ है।इसके बाद रविवार को अचानक गौरव सिंह को एक साल पुराने विवाद में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। उसे साक्षी प्रकरण और विधायक की नाराजगी से जोड़कर देखा जा रहा था। अब जो ऑडियो वायरल हुआ, उसमें भी किसी गौरव का नाम लेकर विधायक की हत्या करा देने की धमकी देने की बात कही जा रही। दो युवक आपस में बात कर रहे हैं। वह कह रहे कि कोई गौरव नाम का एक युवक कह रहा था कि विधायक पप्पू भरतौल को मरवा देगा। उसका सपना विधायक बनने का है इसलिए पप्पू को रास्ते से हटा देगा। ऑडियो वायरल होने के बाद पुलिस के पास पहुंचा जिसकी जांच शुरू कर दी गई। 

बेटी पहले जता चुकी खतरा

अजितेश से प्रेम विवाह के बाद विधायक की बेटी साक्षी मिश्रा ने नौ जुलाई को एक वीडियो जारी कर कहा था कि उन्हें उनके पिता विधायक राजेश मिश्रा से जान का खतरा है। इसके बाद सोमवार को साक्षी मिश्रा हाईकोर्ट पहुंची और उन्हें सुरक्षा मुहैया करा दी गई।

जांच की जा रही है

एसपी सिटी बरेली, अभिनंदन सिंह ने बताया कि ऑडियो मिला है, जांच की जा रही कि कौन लोग आपस में बात कर रहे हैं। उनका विधायक से क्या ताल्लुक है और धमकी देने वाली बात में कितनी सचाई है।

विधायक की मांग पर मिलेगी अतिरिक्त सुरक्षा

एसएसपी बरेली, मुनिराज ने बताया कि विधायक को धमकी प्रकरण की जांच कराई जा रही। यदि वह कहते हैं तो उन्हें अतिरिक्त सुरक्षा मुहैया कराई जाएगी।

क्या है ऑडियो में

वायरल ऑडियो में दो युवक आपस में बात कर रहे हैं। वे कह रहे हैं कि कोई गौरव नाम का एक युवक कह रहा था कि विधायक पप्पू भरतौल को मरवा देगा। उसका सपना विधायक बनने का है इसलिए पप्पू को रास्ते से हटा देगा। ऑडियो वायरल होने के बाद पुलिस के पास पहुंचा जिसकी जांच शुरू कर दी गई है। पूरा ऑडियो 5 मिनट 19 सेकेंड का है। जिसमें दो लोग गौरव सिंह अरमान द्वारा राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल की हत्या करने के एलान की बात कर रहे हैं। गौरव कभी विधायक खास लोगों में गिना जाता था। पुलिस वायरल ऑडियो की जांच कर रही है। फोन पर बातचीत में कुछ लोगों के एक बार की बिल्डिंग खुलवाकर शराब पीने का जिक्र किया जा रहा है। बातचीत में दूसरी ओर से प्रतिवाद किया गया कि सत्ता पक्ष के इतने ताकतवर विधायक का कत्ल करना क्या इतना आसान है। गौरव को पुलिस ने उमरिया-खजुरिया कांवड़ विवाद में बीते रविवार को ही जेल भेजा था। यह ऑडियो भी उसी दिन की बातचीत का है। इस ऑडियो के वायरल होने के बाद एसएसपी ने सीओ एलआईयू को जांच के आदेश देकर विधायक से संपर्क बनाए रखने के आदेश दिए है।

वायरल ऑडियो में हुई बातचीत

पहला शख्स : हां भाई, राम-राम

दूसरा शख्स : जी

पहला शख्स : हां, भाई एक चीज आई है निकल के। कल दरअसल ... तोमर का फोन आया था। यह आया था कि बिल्डिंग खुलवा देना अपनी। एक काम करना है।

दूसरा शख्स : क्या खुलवा देना

पहला शख्स : बिल्डिंग- बिल्डिंग, जहां ये बैठता है। मैं चूंकि कचहरी में ही था। हमने बिल्डिंग खुलवा दी।

दूसरा शख्स : अच्छा।

पहला शख्स : बिल्डिंग में ऊपर लोगों ने बैठकर शराब पी। उसमें अद्धे पव्वे पकड़े गए। आज मैं उसके पास गया तो मैने कहा कि तोमर यार, तुम्हारे कहने पर मैने बिल्डिंग खुलवा दी। उस पर यह बदतमीजी। उसने कहा कि गौरव अरमान का मैं वकील हूं। तो उसकेसाथ असल में 100-200 आदमी आ गए थे भाई साहब।

दूसरा शख्स : हां, उसके साथ एक हजार आदमी आ गए थे ... के. सात-आठ आदमी थे कुल। और कौन से 100-200 आदमी आए थे।

पहला शख्स : मेरी पूरी बात सुन लो।

दूसरा शख्स : हां।

पहला शख्स : तो मैने कहा या कि चैंबर अगर खुला तो आपके कहने पर खुला। इसका मतलब यह तो नहीं कि आप, ऊपर दरअसल लेडीज बैठी हुई है। वह मुसलमान आदमी है। उसकी टेबल पर सामने शराब लुढ़क रही है। वह बोला मै (अधिवक्ता) तो ऊपर गया नहीं। मैं तो यहीं नीचे बैठा रहा। बोला कि उसे रिमांड पर बुलाकर बहुत समझाने की जरूरत पड़ी। वह तो पप्पू का कत्ल करने वाला था।

दूसरा शख्स : ऐं.. अच्छा।

पहला शख्स : वह तो पप्पू का कत्ल करने वाला था। उसने एलान कर दिया है कि पप्पू का कत्ल करूंगा। विधायक जी का।

दूसरा शख्स : अच्छा

पहला शख्स : मैने उससे कहा कि पप्पू का कत्ल चाहे वह करे या तुम करो, लेकिन यार हमारी तो नौकरी तो बचाओ।

दूसरा शख्स : उससे पूछो.. आज तक उसने किसी का कत्ल किया...गाली...।

पहला शख्स : हां, बोला। आने वाले टाइम में वह विधायक है तोमर साहब। मैने तो उससे बात ही नहीं की। मै तो चला आया। मैने कहा कि आज जो मुझसे बदतमीजी हुई, वह ठीक नहीं। मैने तुम्हारे कहने पर बिल्डिंग अपने रिस्क पर खुलवा दी। आज के बाद बिल्डिंग खुलेगी नहीं। उसे समझाने में देर लगी। मैने कहा कि छुट्टी पर मुझे फोन न करे।

दूसरा शख्स : कब हुई बदतमीजी आज।

पहला शख्स : मैने कहा कि आज के बाद सेक्रेटरी साहब को फोन करना। आज के बाद यह बिल्डिंग खुलेगी नहीं, जब तक मेरा फोन नहीं जाएगा। वह बोला- समझा लो उसे। कह रहया है कि मर्डर करूंगा। मर्डर करूंगा। मैने कहा कि उसकी .... टूट गई .... की। मर्डर करेगा वो, चल तो पा नहीं रहा।

पहला शख्स : आगे मैने कहा कि वह सत्ता पक्ष का विधायक है। इतना ताकतवर आदमी है। वह अपने आप में सक्षम व्यक्ति है। अक्षम व्यक्ति नहीं है।

दूसरा शख्स : मतलब, यह पंडित जी का मर्डर करवाएगा।

पहला शख्स : हां। ना, ना। गौरव कह रहया था चिल्ला-चिल्लाकर। मैं मारूंगा, चूंकि उसको तकलीफ हो रही होगी। उसकी पिटाई हुई है।

दूसरा शख्स : वह किसी का सगा हो जाएगा।

पहला शख्स : मै कहां मानने वाला आदमी। मैने उसे जवाब दिया। मैने कहा कि आज के बाद मुझे फोन मत करना।

दूसरा शख्स : गाली के बाद। यह सब ऐसे ही हैं। ... के। तुम चैंबर मत खोलना। यह दारू पीकर सब काम कर लेते हैं।

पहला शख्स : आज ..... तोमर ने मुझे बुलाया। मैने तुम्हे नहीं बताया. तुम बार-बार पूछ रहे थे कि किसका फोन है।

दूसरा शख्स : यह गौरव अरमान ...... पंडित की ..... अपशब्द।

पहला शख्स : आज मैने उसे अपने हिसाब से जलील कर दिया. मैने कहा कि आप ... तोमर को बुलाइए।

दूसरा शख्स : यह पंडित जी के खिलाफ विधायक बनेगा। गाली..... यह बात पंडित के संज्ञान में पहुंच जाएगी।

पहला शख्स : घर के दोनों भाई पंडित जी से चलकर मिलते हैं।

दूसरा शख्स : ठीक-ठीक। 

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप