बरेली, जेएनएन। PMAY-G News : लंबे समय से एक अदद आशियाना का ख्वाब सजाए लोगों के लिए बुधवार राहत भरा साबित हुआ। बरेली के 4600 आशियानों के लिए पहली किस्त जारी हो गई। वीडियो कांफ्रेसिंग में कमिश्नर रणवीर प्रसाद, डीएम नितीश कुमार और सीडीओ चंद्रमोहन गर्ग की मौजूदगी में पूरे प्रदेश के छह लाख से अधिक घरों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2691 करोड़ रुपये जारी कर दिए। प्रधानमंत्री ने संबोधन में कहा कि अपना घर होने पर लोगों का आत्मविश्वास बढ़ता है। यह आवास योजना कम आय वर्ग के लोगों के लिए सब्सिडी लोन उपलब्ध कराती है।

सब्सिडी का अर्थशास्त्र

सालाना आमदनी: 6 लाख रुपये
लोन की अधिकतम रकम: 6 लाख रुपये
सब्सिडी: 6.5 फीसद
ब्याज दर: 9 फीसद
मासिक किस्त : 5398 रुपये
20 साल में कुल ब्याज: 6.95 लाख रुपये
आपका ब्याज सब्सिडी के बाद एनपीवी 2,67,000 रुपये हो जायेगा
वास्तविक लोन 6 लाख रुपये की जगह 3.33 लाख रुपये होगा

पीएमएवाई-जी में छह लाख के लोन पर सब्सिडी

पीएमएवाई-जी में अगर आपकी आय छह लाख रुपये तक सालाना है तो छह लाख रुपये के लोन पर 6.5 फीसद की क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी मिलती है। लोन अधिकतम 20 साल के लिए होना चाहिए। अगर आपको घर बनाने के लिए इससे ज्यादा रकम चाहिए तो आपको उस अतिरिक्त रकम पर आम दरों पर ब्याज चुकाना होगा।

मोबाइल एप से कर सकते हैं आवेदन

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मोबाइल आधारित आवास एप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। मोबाइल नंबर की मदद से लागिन आइडी बनेगी। यह एप आपके मोबाइल नंबर पर एक वन टाइम पासवर्ड भेजेगा। जरूरी जानकारियां भर लें। पीएमएवाई-जी के तहत घर पाने के लिए आवेदन करने के बाद केंद्र सरकार लाभार्थियों का चुनाव करती है। लाभार्थियों की फाइनल लिस्ट पीएमएवाई-जी की वेबसाइट पर अपलोड होती है।

चयन हुआ या नहीं, ऐसे जाने

सबसे पहले वेबसाइट जाना होगा।

रजिस्ट्रेशन नंबर लिखते ही आपकी डिटेल स्क्रीन पर होगी।

अगर रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं है तो ’एडवांस सर्च’ पर क्लिक करें।

इसके बाद जो फॉर्म आए उसे भर लें।

फिर सर्च विकल्प पर क्लिक करें, आपकी जानकारी आ जाएगी। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप