बरेली, जेएनएन। PM Kisan Samman Nidhi Yojna : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के चयनित लाभार्थियों में सैकड़ों ऐसे लोग हैं, जिनके फीड किए गए अभिलेखों में त्रुटियों के कारण लाभ से वंचित रहे। शासन के निर्देश पर विकास खंडों में दो दिवसीय शिविर लगाकर ऐसे में 386 किसानों के अभिलेख दुरुस्त कराए गए। इससे उन्हें सम्मान निधि की अगली किस्त मिलने का रास्ता साफ हो गया है।

इस योजना के अंतर्गत किसानों को साल भर के दौरान तीन किस्तों में छह हजार रुपये का भुगतान किया जाता है। एक किस्त में दो हजार रुपये मिलते हैं। यह धनराशि संबंधित किसान के खाते में भेजी जाती है। जिले में इस योजना में कुल 3 लाख 8 हजार 585 किसान चयनित हैं। इनमें से सैकड़ों किसान ऐसे रहे, जिनके आधार कार्ड में दर्ज नाम और बैंक खाता में लिखाए नाम में अंतर पाया गया।

कुछ ऐसे भी हैं, जिनके बैंक खाता संख्या दुरुस्त नहीं होने के कारण उन्हें योजना की किस्त नहीं मिल सकी हैं। शासन के निर्देश पर सोमवार व मंगलवार को जिले के प्रत्येक विकास खंड पर शिविर लगाकर अभिलेखों की त्रुटियों को दुरुस्त कराया गया। जिला कृषि अधिकारी डा. विनोद कुमार यादव के अनुसार शिविर में पहले दिन 159 और दूसरे दिन 227 किसानों के अभिलेखों की त्रुटियों को दुरुस्त कराया गया।

इस तरह कुल 386 किसानों के अभिलेखों की त्रुटियां दुरुस्त करा दी गई हैं। उन्होंने बताया कि इस समय योजना के तहत कोई नया आवेदन नहीं लिया जा रहा। जो किसान पहले से चयनित हैं, उनमें जिनके अभिलेखों में त्रुटि होने पर उसे दुरुस्त कराकर लाभ प्रदान करने का कार्य हो रहा है।

Edited By: Ravi Mishra