पीलीभीत, जागरण संवाददाता। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अंतर्गत मई महीने के खाद्यान्न वितरण में तराई के जिले को पूरे प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है। जिले में इस योजना के तहत 92.42 प्रतिशत उपभोक्ताओं को खाद्यान्न प्राप्त हुआ है। प्रदेश में दूसरा स्थान मीरजापुर को मिला है। वहां 91.81 लोगों को खाद्यान्न मिला जबकि कौशांबी जिला 91.75 प्रतिशत वितरण के साथ तीसरे स्थान पर रहा है।

पीलीभीत जिले में कुल 3 लाख 74 हजार 87 राशन कार्ड हैं। इन राशन कार्डों में 16 लाख 32 हजार 215 यूनिट संबद्ध हैं। मई के महीने में  इनमें से 3 लाख 45 हजार 515 राशन कार्ड धारकों ने खाद्यान्न प्राप्त किया है। इससे  15 लाख 31 हजार 663 यूनिट को लाभ मिला है। यह कुल राशन कार्डों का 92.42 प्रतिशत है। श्रावस्ती जिले को चौथा स्थान मिला है। यहां कुल 91.45 प्रतिशत लोगों को खाद्यान्न मिला। कुशीनगर जिले में 91,32, फतेहपुर में 90.32 प्रतिशत लोगों ने खाद्यान्न प्राप्त किया। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न  योजना के तहत मई में हुए निश्शुल्क खाद्यान्न वितरण में बरेली जिला सातवें स्थान पर रहा है।

इस जिले में 89.76 प्रतिशत राशन कार्ड धारकों को खाद्यान्न प्राप्त हुआ। शाहजहांपुर जिला 21वें स्थान पर रहा। यहां कुल 87.99 प्रतिशत लोगों को खाद्यान्न मिला। बदायूं जिला 45वें स्थान पर है। इस जिले में कुल 85.96 प्रतिशत राशन कार्ड धारकों को खाद्यान्न वितरित हुआ है। तराई का यह जिला इससे पहले आनलाइन शिकायतों के निस्तारण तथा परिषदीय विद्यालयों में चलाए गए मिशन कायाकल्प में भी प्रदेश में पहला स्थान प्राप्त कर चुका है। डीएम पुलकित खरे ने इस उपलब्धि पर खुशी जाहिर की। 

Edited By: Vivek Bajpai