बरेली, जेएनएन। Shahjahanpur Road Game : यूपी के शाहजहांपुर के कलान विकास खंड में फर्जीवाड़ा अपने चरम पर है। नगर पंचायत बनने के बाद फर्जी रफियाबाद कलान के खाते से निलंबित ग्राम पंचायत अधिकारी व एडीओ के डोंगल से 15.77 लाख की धनराशि निकालने का राज फाश हाेने के बाद अब ग्राम पंचायत कुदरासी में 1.43 लाख की कागजों पर सड़क बनाने का मामला सामने आया है। शिकायत पर की गई जांच में फर्जीवाड़ा पकड़े जाने पर मुख्य विकास अधिकारी संबंधित ग्राम पंचायत अधिकारी व अवर अभियंता के खिलाफ विभागीय कार्रवाई संस्तुति कर दी है।

यह है पूरा मामला

दिव्यांग सभा के प्रदेश अध्यक्ष मुकेश यादव ने प्रशासक कार्यकाल में एक लाख 19 हजार 532 तथा वर्तमान प्रधान के कार्यकाल में 24 हजार 480 रुपये की लागत से निर्मित दिखायी गई कच्ची सड़क पर सवाल उठाए। उन्होंने बिना काम कराए पैसा निकालने का आरोप लगाते हुए जांच की मांग की। जिला ग्राम्य विकास अभिकरण के परियोजना निदेशक ने जांच कराई।

जांच में रामासरे के खेत से गोकुलनगला गांव की सीमा तक करीब कच्ची सड़क पर मिट्टी कार्य को पूर्व का पाया गया। रामदास के मकान के पास तालाब के जीर्णोद्धार कार्य को भी गत वर्षों का बताया गया। जबकि कागजों पर जुलाई में कार्य दर्शाया दर्शाकर 73440 रुपये निकाले गए।

फर्जीवाड़े की रकम की वेतन से होगी वसूली

मुख्य विकास अधिकारी ने जांच रिपोर्ट मिलने पर संबंधित ग्राम पंचायत अधिकारी तथा अवर अभियंता को फर्जी भुगतान के लिए दोषी माना। उन्होंने दोनों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई संस्थित करने के लिए मनरेगा उपायुक्त तथा जिला पंचायतीराज अधिकारी को पत्र जारी किया है। पत्र में वेतन से फर्जी भुगतान की रिकवरी के भी निर्देश दिए गए है।

कलान क्षेत्र की शिकायत मिली थी। जांच कराई गई है। जांच रिपोर्ट के आधार पर दोषी कर्मचारी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई संस्थित करने के निर्देश दिए गए है। श्याम बहादुर सिंह, मुख्य विकास अधिकारी

Edited By: Ravi Mishra