बरेली, जेएनएन। New Education Policy : एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय और उससे जुड़े महाविद्यालयों में शैक्षणिक सत्र 2021-22 से नई शिक्षा नीति के तहत नए पाठ्यक्रम शुरू किए जाएंगे। इसके तहत अधिकांश विषयों के पाठ्यक्रम तैयार कर लिए गए हैं। जिसे बोर्ड आफ स्टडीज ने लागू करने के लिए स्वीकृति भी दे दी है। विश्वविद्यालय इस सत्र में नई शिक्षा नीति के तहत प्रवेश प्रक्रिया भी शुरू कर रहा है।

नई शिक्षा नीति के तहत जो कामन मिनिमम सिलेबस तैयार किया गया है। वह केवल स्नातक स्तर के लिए है। जिसमें स्नातक के सभी पाठ्यक्रम सेमेस्टर आधारित बनाए गए हैं। साथ ही मल्टीपल एंट्री और एग्जिट के तहत सिलेबस बना है। छह सेमेस्टर में स्नातक के पाठ्यक्रम को बनाया गया है।

एक साल में दो सेमेस्टर का सिलेबस सर्टिफिकेट कोर्स के लिए बनाया गया है। दो साल में चार सेमेस्टर डिप्लोमा और तीन साल में छह सेमेस्टर के कोर्स को स्नातक की डिग्री के लिए तैयार किया गया है। परंपरागत पाठ्यक्रमों को भी रोजगारपरक बनाने की कोशिश की गई है।

जिससे भूगोल, समाजशास्त्र, इतिहास, अर्थशास्त्र जैसे परंपरागत विषयों में अतिरिक्त कार्यक्रम भी जोड़े गए हैं। वहीं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. केपी सिंह की अध्यक्षता में विश्विद्यालय कैंपस एवं महाविद्यालयो में नवीन सत्र (2021-22) के विभिन्न पाठ्यक्रमों में विद्यार्थियों के प्रवेश एवं संबंधित प्रक्रिया के विषय पर पत्रकार वार्ता में जानकारी भी देंगे।

Edited By: Ravi Mishra