बरेली(जेएनएन)। जिला कारागार में जहर खाने से दो बंदियों की मौत होने के मामले में एक बंदी के परिजनों ने जेल प्रशासन, दूसरे ने दहेज हत्या का केस दर्ज कराने वाले रिश्तेदारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। सिविल लाइंस पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

बुधवार को जिला कारागार में दहेज हत्या के आरोपित बंदी असलम निवासी मुहल्ला हकीमगंज थाना सदर कोतवाली और फैजगंज बेहटा थाना क्षेत्र के गांव नूरनगर कौड़िया निवासी हत्यारोपित शाहरुख ने जेल के अंदर ही जहर खा लिया था। दोनों की मौत हो गई थी। तब से डीआइजी जेल शशि श्रीवास्तव यहां डेरा डाले हुए हैं। उन्होंने शासन को रिपोर्ट भेजी है।

जेलकर्मियों की मिलीभगत से ससुरालियों ने कराई हत्या

मृतक असलम के भाई सलीम ने उसके ससुरालीजनों के खिलाफ साजिशन हत्या करने की तहरीर पुलिस को दी गई। सलीम ने ससुराली अकबरी बानो, जुल्कर नैन, मोहम्मद नदीम, मोहम्मद शकील, सेवन कमाल, के साथ ही जेल कर्मचारी को नामजद कराया। आरोप लगाया कि जेल कर्मचारियों की मदद से भाई की हत्या की गई है। -शाहरुख के परिजनों ने लिखाई रिपोर्ट : मृतक बंदी शाहरुख के पिता उमर खां ने वार्डन, चीफ समेत जिला कारागार प्रशासन पर हत्या का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया है। सिविल लाइंस पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के बाद मामले की जांच शुरू कर दी है।

-जेलर और डिप्टी जेलर का तबादला : गुरुवार को शासन स्तर से किए गए 38 जेलरों के तबादले की सूची में बदायूं जिला कारागार के जेलर और डिप्टी जेलर का भी तबादला हो गया। जेलर पीएस शुक्ल का गोरखपुर तो डिप्टी जेलर सुनील कुमार का तबादला बस्ती किया गया है। रामपुर के जेलर आदित्य कुमार को यहां का जेलर बनाया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस