बरेली, जागरण संवाददाता। जिले में बंदरों के चलते होने वाले हादसा का सिलसिला थम नहीं रहा है। कभी बंदर वाहन चालकों के लिए मुसीबत बनते हैं तो कहीं, वो राहगीरों पर हमला कर देते हैं। बुधवार को रामलीला ड्यूटी में जा रहीं महिला सिपाही बंदर के चलते हादसे का शिकार हो गईं। महिला सिपाही की स्कूटी के आगे अचानक से बंदर कूद पड़ा, जिससे महिला सिपाही, उसकी साथी व दोनों के बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। चारों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

पुलिस के मुताबिक, महिला सिपाही सुकेश सिंह चौहान और ऊषा दोनों की पुलिस लाइन में तैनाती है। दोनों की आंवला रामलीला में ड्यूटी लगी हुई थी। बुधवार दोपहर करीब तीन बजे दोनों स्कूटी से आंवला जा रही थीं। सुकेश के साथ उनकी ढाई साल की बेटी शिवी और ऊषा का तीन साल का बेटा भी था।

बदायूं रोड पर महेशपुरा फाटक के पास सभी पहुंचे ही थे कि अचानक से स्कूटी के सामने बंदर कूद पड़ा। इससे स्कूटी अनियंत्रित हो गई और चारों गिर पड़े। गिरने के चलते सभी घायल हो गए। आनन-फानन में सभी को करगैना के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। प्रतिसार निरीक्षक निरोत्तम सिंह ने बताया कि सुकेश का कंधा फ्रैक्चर हुआ है। ऊषा के माथे में चोट आई है। दोनों बच्चों को भी चोट आई है।

Edited By: Vivek Bajpai

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट