जेएनएन, बरेली : बंगाल के मैदान पर अपनी गेंदबाजी का कमाल दिखाकर भारतीय क्रिकेट का सितारा बनकर उभरे तेज गेंदबाज मुहम्मद शमी के भाई मुहम्मद कैफ भी उनके नक्शेकदम पर चल पड़े हैं। बंगाल की अंडर-23 टीम में उनका चयन हुआ है। कैफ भी भाई शमी की तरह टीम इंडिया का हिस्सा बनना चाहते हैं। रविवार को बंगाल टीम की चयन सूची घोषित होने के बाद दैनिक जागरण से दूरभाष से बातचीत में मुहम्मद कैफ ने कहा कि क्रिकेट में भाई शमी उनके आदर्श हैं। अब तक जो कुछ सीखा उसमें सबसे बड़ा योगदान भाई का है। वह मूल रूप से अमरोहा जिले के गांव सहजपुर अलीनगर के रहने वाले हैं। कैफ से पहले मुहम्मद शमी भी घरेलू प्रतियोगिताओं में बंगाल की ओर से खेलते रहे हैं।

इसी महीने बंगाल से खेलेंगे कैफ : कैफ इसी महीने भारतीय अंडर-23 टूर्नामेंट में बंगाल की ओर से मैदान में उतरेंगे। अभी वह बंगाल के टाउन क्लब से खेल रहे हैं। कैफ के मुताबिक, बंगाल टीम में चयनित होने से खुश हूं। अब अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास करूंगा

सात साल में पाया बड़ा प्लेटफार्म : मुहम्मद कैफ के मुताबिक भाई क्रिकेटर हैं, इसलिए सामान्य खेल तो हम शुरुआत से ही खेलते हैं। मगर सात साल पहले मैंने क्रिकेटर बनने की उम्मीद से खेलना शुरू किया था। भाई ने ही बंगाल पहुंचाया।

खिलाड़ियों को प्लेटफार्म की जरूरत : कैफ का मानना है कि रुहेलखंड में बहुत टैलेंट है। बस जरूरत है उसे पहचान कर निखारने की। उम्मीद जताते हैं कि भविष्य में अच्छे खिलाड़ी सामने आएंगे। कैफ एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय की ओर से भी ऑल इंडिया अंतर विवि प्रतियोगिता खेल चुके हैं।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस