जेएनएन, बरेली : प्रदेश के ऊर्जा एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्रीकांत शर्मा ने अपने दूसरे दौरे में बगैर ब्रेक लिए 15 घंटे निरीक्षण और बैठक की। विकास के कामों को जमीन पर परखा। बैठक में अफसरों की क्लास लगाई। जनप्रतिनिधियों और भाजपा की कोर कमेटी से शिकायतें, समस्याएं जानीं। सिस्टम की नब्ज पर हाथ रखते हुए बड़े अधिकारियों से साफ कहा कि जब तक अपने नीचे स्तर पर सुधार नहीं करेंगे, बदलाव नहीं आएगा।

सर्किट हाउस में चली प्रभारी मंत्री की Class 

सर्किट हाउस में रात साढ़े दस बजे जिलाधिकारी नितीश कुमार, एसएसपी शैलेश पांडेय, सीडीओ सत्येंद्र कुमार और चीफ इंजीनियर बिजली तारिक जमाल को नीचे के सुधार का मतलब समझाया। बताया कि जब तहसील, थाने, ब्लॉक और सब स्टेशनों पर जनता की समस्याओं का समाधान ईमानदारी से होगा, तब ही बदलाव का सपना साकार होगा। लिहाजा, डीएम कलेक्ट्रेट के साथ तहसीलों में जाकर स्थिति देखें।

 बोले, नीचे काम करने वालों का बदले रवैया 

एसएसपी थाने, सीडीओ ब्लॉक और बिजली चीफ अपने नीचे काम करने वाले अफसरों व कर्मचारियों का रवैया बदलें। शिकायतें न सिर्फ सुनी जाएं बल्कि उनका गंभीरता के साथ निपटारा भी हो। मैंने कह दिया और आपने सुन लिया, महज इससे काम नहीं चलेगा। अफसरों ने आश्वस्त किया कि जब अगले दौरे पर आएंगे को बदलाव दिखेगा। 

इन पर नाराजगी जताते हुए दिए ये निर्देश 

जिला अस्पताल में सीएमएस को कसा

21 डॉक्टरों पर कार्रवाई के दिए निर्देश

मलिन बस्ती में खराब हालत पर बिगड़े

सेतु निगम अफसरों पर गुस्साए

स्कूल के प्रधानाचार्य से जताई नाराजगी।

 

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस