बरेली, जेएनएन। एक टीवी चैनल पर बरेली के पूर्व महापौर डॉ. आइएस तोमर से डिबेट के दौरान महापौर डॉ. उमेश गौतम अफसरों पर फिर बरसे। उन्होंने कहा कि शासन से 15 दिन में बरेली स्मार्ट सिटी कंपनी के एक उच्चाधिकारी के खिलाफ कार्रवाई हो जाएगी।

फरीदपुर रोड पर रजऊ परसपुर स्थित सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट को लेकर महापौर व पूर्व महापौर के खिलाफ कई साल से विवाद चल रहा है। बीते दिनों अधिकारियों ने महापौर के इन्वर्टिस विश्वविद्यालय द्वारा प्लांट की जमीन कब्जाने की शिकायत शासन को भेजी थी। उसके कुछ समय बाद ही पूर्व महापौर डॉ. आइएस तोमर ने भी सरकारी जमीन पर कब्जा किए जाने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र भेजकर कार्रवाई की मांग की थी। उसके बाद दोनों में फिर एक बार विवाद बढ़ गया।

इसी को लेकर रविवार को एक टीवी चैनल ने पूरे एक घंटे का एपिसोड तैयार कर दिया। इसमें दोनों के बीच आरोप-प्रत्यारोप चलते रहे। दोनों के बीच विवाद की सुई एक बड़े अफसर की ओर घूम गई। महापौर ने इस अफसर के इशारे पर ही सरकारी जमीन कब्जा की झूठी रिपोर्ट शासन में भेजने का आरोप लगाया। उन्होंने पूर्व महापौर के साथ साठगांठ की बात भी कही। इतना ही नहीं उन्होंने शासन स्तर से जल्द उक्त आला अफसर के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की बात भी कह दी।

इस पर उनसे पूछा गया, कितने समय में कार्रवाई होगी। तब उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि 15 दिन में। बोले, अगर कार्रवाई नहीं होगी तो फिर एक बार उनके साथ डिबेट में बैठेंगे। हालांकि इस बाबत महापौर से बात करने की कोशिश की गई पर उनका फोन रिसीव नहीं हुआ।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021