बरेली, जागरण संवाददाता। राजस्‍थान के उदयपुर में भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नुपुर शर्मा के समर्थन में इंटरनेट मीडिया पर पोस्‍ट करने वाले व्‍यक्ति की बर्बर हत्‍या की देश के साथ ही विदेश में भी निंदा की जा रही है। देशभर के उलमा ने भी इस जघन्‍य हत्‍याकांड को मानवता को शर्मशार करने वाला बताया है। साथ ही लोगों से शांति बनाए रखने की अपील है। इसी कड़ी में दरगाह आला हजरत से जुड़े संगाठन तंजीम उलमा ए इस्लाम के राष्ट्रीय महासचिव शहाबुद्दीन रजवी ने भी इस घटना की कड़ी निंदा की है। उन्‍होंने कहा कि इस हत्‍या ने देशभर के मुसलमानों का सिर झुका दिया है। के दिलों को तकलीफ पहुंचा रखी थी, लेकिन उदयपुर के वाक्या ने देशभर के मुसलमानों का सर झुका दिया है , झुके हुए सर के साथ मुसलमान अपने पैग़म्बर की शान मे गुस्ताखी के खिलाफ अपने दुःख और अपने ग़म व गुस्से का इजहार किस तरह कर सकते है?

यह भी पढ़ें:- Udaipur Murder Case कन्‍हैयालाल का पोस्‍टमार्टम के बाद स्‍वजन को सौंपा गया शव, पुलिस की गिरफ्त में कातिल

मौलाना ने कहा कि पैगंबर की शान में गुस्ताखी की घटनाओं से मुसलमान आहत थे लेकिन, कल जो हुआ उससे मुसलमान शर्मिंदा हैं। पैगंबर इस्लाम ने अपने दुश्‍मनों से भी कभी इंतकाम नहीं लिया न ही अपने चाहने वालो को ऐसा करने दिया। ऐसे में जो लोग पैगंबर इस्लाम से अपनी मोहब्‍बत जाहिर करने के लिए इस तरह किसी का सिर कलम कर दें, वो इस्‍लाम को मानने वाले नहीं कहे जा सकते। उन्‍होंने कहा कि इस्लाम साफ सुथरी छवि का नाम है। इस्लाम प्‍यार और मोहब्‍बत का नाम है। इस्‍लाम में ऐसे लोगों की कोई जगह नहीं है। उन्‍होंने कहा कि जििन्‍होंने ऐसी घटना को अंजाम दिया है, उन्‍हें इस्‍लाम का कोई ज्ञान नहीं है। ये लोग देश की शांति भंग करना चाहते हैं। ऐसे लोगों पर सख्‍त कार्रवाई होनी चाहिए।

मौलाना रजवी ने आगे कहा कि अब मुसलमानों की जिम्‍मेदारी है कि वह इस मुश्किल घड़ी को संभालें। मुसलमान देश के हालात पर नजर रखते हुए काम करें। मुसलमान पैगंबर की राह पर चलें जो अपने दुश्‍मनों को भी माफ कर देते थे। उनकी राह पर चलकर ही गैर मुस्लिमों से अच्‍छा व्‍यवहार करेंं। कोई भी ऐसा कदम न उठाएं जो गैर कानूनी हो। अगर कोई शिकायत हो तो सही तरीके से अपनी बात सरकार तक पहुंचाएं। उन्‍होंने सभी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। 

आपको बतादें कि मंगलवार को उदयपुर में एक दर्जी कन्‍हैयालाल की तालिबानी तरीके से दो आरोपितों गौस मोहम्‍मद और रियाज जब्‍बार ने गला काटकर हत्‍या कर दी थी। कन्‍हैयालाल अपनी दुकान पर थे। आरोपित कपड़े की नाप देने के बहाने दुकान में घुसे और वारदात को अंजाम दिया था।

Edited By: Vivek Bajpai