बरेली, जेएनएन: 15 लाख मिलने के लालच में फंसे युवक से 64 हजार रुपये ठग लिए गए। शातिर ठगों ने झांसा दिया कि मोबाइल फोन के टावर लगवाए जाएंगे, इसके बदले उन्हें पंद्रह लाख मिलेंगे। मगर इससे पहले कुछ फीस जमा करनी होगी। युवक झांसे में आकर रुपये जमा करता गया। बाद में पता चला कि उनके साथ ठगी कर ली गई। 

बारादरी के कटरा चांद खां निवासी मदनलाल ने बताया कि मोहित पांडेय नाम के युवक ने उनसे फोन पर संपर्क किया। खुद को मोबाइल टावर कंपनी का अधिकारी बताते हुए कि उनकी जमीन पर टावर लगवाया जा सकता है। इसके बदले कंपनी उन्हें पंद्रह लाख रुपये किराया देगी। ये रकम चेक के माध्यम से उनके खाते में पहुंच जाएगी। मदनलाल उसके झांसे में आ गए और टावर लगवाने को हामी भर दी। 12 सितंबर को उस युवक ने कहा कि 2200 रुपये प्रोसेसिंग फीस के जमा करो, मदन लाल ने ऐसा कर दिया। उसके बाद कुछ और फीस बताईं। पांच बार में 64 हजार रुपये ले लिए। इसके बाद आरोपित ने उनसे एक सादा कागज पर एग्रीमेंट साइन कराया। खुद को कोलकाता निवासी बताने वाले आरोपित ने कहा कि टावर लगवाने का किराया उनके खाते में दे दिया जाएगा। कई दिन बाद भी जब खाते में रुपये नहीं आए तो   मदनलाल ने रुपये वापस मांगे। इस पर आरोपित ने कहा कि बीस हजार और जमा कर दोगे तो खाते में रकम पहुंच जाएगी। मदन लाल ने इन्कार किया तो आरोपित धमकी देने लगा। कहा कि पुलिस में शिकायत की तो अंजाम बुरा होगा। मामले की शिकायत एसएसपी से की गई जिसके बाद बारादरी थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया। 

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस