जेएनएन, बरेली : कैंट के बीआइ बाजार से लापता सेना के जवान का डेढ़ साल बाद भी कुछ पता नहीं चल सका है। इस मामले की जांच के दौरान जवान की फेसबुक आइडी से पुलिस को इनपुट हाथ लगा। इसके चलते पुलिस ने पंजाब और हरियाणा के नौ जिलों में उसकी तलाश की और पोस्टर चिपकाए।

साइकिल सही कराने निकला था जवान 

पंजाब के होशियारपुर थाना तलवाड़ा के गांव रामौवाला निवासी रजत पुत्र उपदेश सिंह पंजाब रेजीमेंट में तैनात है। उनकी ड्यूटी साल 2018 में बरेली में कर्नल एके दुबे के साथ थी। 28 जुलाई 2018 को रजत साइकिल सही कराने बीआइ बाजार आए थे। उसी दिन से गायब है। कैंट थाने में उनकी गुमशुदगी भी दर्ज है।

पंजाब के होशियार पहुंची थी पुलिस टीम

पुलिस उनकी लगातार तलाश कर रही है। उनके मोबाइल नंबर भी सर्विलांस पर लगे हुए हैं। इसी दौरान जानकारी मिली कि पंजाब के होशियारपुर जिले से जवान की फेसबुक आइडी चलाई जा रही है। इस पर इंस्पेक्टर कैंट अवनीश सिंह पुलिस बल के साथ होशियारपुर पहुंच गए।

मंगेतर चलाती मिली फेसबुक आइडी 

उन्होंने जब उक्त लोकेशन पर पहुंचकर पूछताछ की तो पता चला कि फेसबुक आइडी लापता जवान की मंगेतर चला रही है। मंगेतर ने बताया कि वह इसलिए उनकी आइडी चलाती है कि शायद रजत की कोई जानकारी मिल जाए। लेकिन कोई खास जानकारी नहीं मिली। 

चस्पा किए लापता जवान के पोस्टर 

इसके बाद इंस्पेक्टर पुलिस बल के साथ पंजाब के गुरदासपुर, अंबाला, जालंधर, रूपनगर व आनंदपुर साहिब और हिमांचल के कांगड़ा व ऊना जिले भी गए। वहां अलग-अलग स्थानों पर रजत की गुमशुदगी संबंधी पोस्टर भी चस्पा किए गए हैं। काफी तलाश करने के बाद कैंट पुलिस चार दिन बाद लौट आई।

एसएसपी को तलब कर चुकी हाइकोर्ट

जवान की काफी तलाश के बाद भी वह नहीं मिला। इस पर हाइकोर्ट में भी जवान के पिता की ओर से अर्जी लगाई गई थी। हाइकोर्ट ने एसएसपी बरेली शैलेश पांडेय को तलब भी किया था।

जवान की तलाश लगातार की जा रही है। चार दिन तक पंजाब और हिमांचल के अलग अलग जिलों में उसकी तलाश की। फेसबुक आईडी के आधार पर उसकी मंगेतर से भी पूछताछ की। प्रयास जारी है जल्द ही जवान का पता चल सके।  -अवनीश सिंह, इंस्पेक्टर, कैंट  

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस