जेएनएन, बदायूं : कोई विषैला पदार्थ खाने से एक मासूम लड़की की मौत हो गई, जबकि उसका भाई गंभीर है। इस सदमे के कारण दादी ने भी दम तोड़ दिया। देर शाम पुलिस ने गांव का जायजा लिया, लेकिन परिजनों की ओर से कोई तहरीर नहीं दी गई। बताते हैैं, बच्चे घर से पराठे खाकर निकले थे।

थाना उघैती के गांव गंदरोली निवासी रनवीर सिंह के पुत्र रजत, अतुल और पुत्री गुंजन समीप के गांव सरूपपुर के पीएसपी स्कूल में पढते हैं। मंगलवार को तीनों बच्चे स्कूल गए थे। बताते हैं कि लगभग तीन घंटे बाद स्कूल के एक शिक्षक अतुल को बेहोशी की हालत में घर पहुंचा गए। सूचना मिलने पर खेत में काम कर रहे रनवीर उसे लेकर नगर के एक प्राइवेट अस्पताल ले आए। इसी बीच स्कूल की गाड़ी आठ साल की गुंजन को गंभीर अवस्था में घर छोड़ गई, जहां उसकी मौत हो गई। मासूम गुंजन की मौत के बाद पूरे परिवार में कोहराम मच गया। रोते राते गुंजन की दादी सत्तर वर्षीय बेबा कैलाशो की हालत बिगड़ गई। जब तक परिवार वाले उन्हें अस्पताल लेकर जाते, वह दम तोड़ चुकी थीं। इधर, प्राइवेट अस्पताल में अतुल की हालत गंभीर बनी हुई है।

घटना का कारण स्पष्ट नहीं

बदहवास पिता रनवीर ने बताया कि घटना का कारण समझ में नहीं आ रहा है। बच्चे ठीक ठाक स्कूल गए थे। तीन घंटे बाद हालत बिगड़ी। इंस्पेक्टर उघैती प्रमोद कुमार गांव पहुंचे। उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला फूड प्वाइजनिंग का प्रतीत हो रहा है। जांच पड़ताल चल रही है, फिलहाल परिजनों की ओर से अभी तक कोई तहरीर नहीं दी गई है। 

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस