बरेली, जेएनएन। Indian Railway News : पटरी पर दौड़ती ट्रेनों में अपराध कम हुए हैं। ट्रेनों के सीमित संचालन के अलावा कंफर्म टिकट से यात्र की सख्ती के चलते ऐसा हुआ है। इससे यात्री भी सुकून महसूस कर रहे हैं। मुरादाबाद मंडल के ए श्रेणी में शामिल जंक्शन राजस्व देने में भी नंबर एक है। रेलवे से प्राप्त आंकड़ों पर निगाह डाले तो 2019 की तुलना में 2020 में अपराधों में कमी आई है। जहरखुरानी के पिछले वर्ष दो तो इस बार कोई मामला सामने नहीं आया। पिछले साल चोरी के 169 तो इस बार अभी तक महज एक मामला सामने आया।

अपराध के आंकड़ों पर एक नजर

चेनपुलिंग

रेल संपत्ति चोरी

जहरखुरानी

ट्रेन में चोरी

एनडीपीएस

महिला अपराध

रुकी चेनपुलिंग तो समय से दौड़ रहीं ट्रेनें

पिछले साल चेनपुलिंग के 115 तो इस वर्ष अभी तक केवल दो मामले पंजीकृत हुए हैं। स्टेशन अधीक्षक सत्यवीर सिंह के मुताबिक लंबे रूट की कुछ ट्रेनें कोहरा अधिक होने पर भले ही 10-15 मिनट की देरी से आएं, वरना लगभग सभी ट्रेनें निर्धारित समय से चल रही है। दरअसल चेनपुलिंग के बाद प्रेशर आदि सही होने में समय लगता है, जिससे ट्रेनें लेट होती थीं।

फीसद घटी यात्रियों की संख्या

यात्री प्रतिदिन करते थे सफर कोविड काल से पहले

ट्रेनों का इस समय है जंक्शन पर ठहराव

यात्री इन दिनों प्रतिदिन कर रहे सफर

ट्रेनों का जंक्शन पर स्टापेज था कोविड काल से पहले

ट्रेनों में कंफर्म टिकट पर यात्रा होने से जहरखुरानी, चोरी आदि की घटनाओं पर नियंत्रण हुआ है। ट्रेनों में चलने वाला स्कॉर्ट लगातार गश्त कर रहा है। -विजय सिंह राणा, निरीक्षक, जीआरपी, बरेली जंक्शन

कंफर्म टिकट के साथ ही 90 मिनट पहले यात्रियों को जंक्शन बुलाया जा रहा है। ऐसे में चेनपुलिंग की घटनाएं कम हुई है। आरपीएफ जवान लगातार मॉनीटरिंग भी कर रहे हैं।-विपिन कुमार शिशौदिया, निरीक्षक, आरपीएफ, बरेली जंक्शन

Edited By: Ravi Mishra