जेएनएन, बरेली : पुलिस, इंटेलीजेंस, एसटीएफ और अन्य एजेंसियों की सख्ती के बावजूद नकली नोटों की सप्लाई की जा रही है। इस बार जाली मुद्रा के सौदागरों ने बाजार ही नहीं, सीधे बैंक के भीतर तक यह नोट पहुंचा दिए। सिविल लाइंस स्थित आइसीआइसीआइ बैंक की मुख्य शाखा में ऐसे 42 नोट मिले हैं। आनन-फानन में बैंक के प्रबंधक ने कोतवाली में तहरीर दी है। अब पुलिस जांच में जुटी है।

तहरीर में बताया कि कई कस्टमर द्वारा बैंक की अन्य शाखाओं में करीब 42 नकली नोट जमा किए गए। मुख्य शाखा में आने के बाद जब मशीन से कैश गिना जा रहा था तो इसकी जानकारी हुई।

-----------------------

चार से 31 दिसंबर तक शाखाओं में जमा हुए

बैंक की जांच में पता चला है कि यह सभी नोट 4 से 31 दिसंबर के बीच बैंक की शहर में स्थित अन्य शाखाओं में जमा किए गए थे। मुख्य शाखा में मशीन से कैश गिने जाने पर पकड़ में आए। सभी नोटों का कागज रिजर्व बैंक से जारी नोटों के कागज से भिन्न है। पुलिस को दी तहरीर में बैंक ने नकली नोटों की संख्या ही उपलब्ध कराई है। नोट बैंक के ही कब्जे में हैं।

पहले भी पहुंचे हैं जाली नोट

बैंकों तक नकली नोट पहुंचने का यह पहला मामला नहीं है। करीब एक साल पहले भी आइसीआइसीआइ और अन्य बैंकों में भी नकली नोट पाए गए थे। पुलिस की जांच तह तक नहीं पहुंच सकी।

10 से लेकर 500 तक के हैं नोट

खास बात, अब तक बड़े जाली नोटों की ही सप्लाई सामने आई थी। इस बार छोटे नोट भी खपाए गए हैं। बैंक में जो नोट नकली मिले हैं उनमें 500 से लेकर 100, 50, 20 और 10 के भी हैं। नकली नोटों की संख्या

500 के 2

100 के 24

50 के 14

20 के 1

10 के 1 वर्जन

बैंक मैनेजर शिवांशु की तरफ से तहरीर दी गई है। मामला दर्ज कर जांच की जाएगी।

गीतेश कपिल, इंस्पेक्टर कोतवाली

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस