बरेली [अभिषेक पाण्डेय] : प्रेम विवाह और फिर विधायक पिता से जान का खतरा बताने वाली साक्षी व उनके पति अजितेश इस वक्त दिल्ली व एनसीआर क्षेत्र में हैं। दोनों को गनर दे दिए गए हैं मगर, सुरक्षा कारणों से वे रोजाना ठिकाना बदल रहे। कभी होटल, तो कभी लॉज में रहते हैं। पहचान छिपाने के लिए अजितेश व साक्षी चेहरा छिपाकर निकल रहे।

15 जुलाई को हाईकोर्ट में पेश होने के बाद साक्षी व अजितेश को सुरक्षा मुहैया करा दी गई। वहां से वे दोनों सीधे दिल्ली पहुंचे थे। तीन दिन से वे दिल्ली व एनसीआर क्षेत्र में ही हैं। सुरक्षा कारणों और गोपनीय स्थान पर रहें इसलिए उन्होंने किसी रिश्तेदार या परिचित के घर शरण नहीं ली है। उनके साथ सिर्फ अजितेश के पिता हरीश हैं।

बरेली से पहुंची दूसरी टीम, पहली वापस लौटी

सुरक्षा दिए जाने का आदेश मिलने के साथ ही इज्जतनगर थाने से एक दारोगा, दो सिपाही व एक महिला सिपाही को सुरक्षा में तैनात किया गया था। पहली टीम की शिफ्ट पूरी होने के बाद वह लौट आई, बुधवार से पुलिस लाइंस से दो गनर सुरक्षा के लिए भेजे गए।

रिश्तेदार व रसूखदार दे रहे आर्थिक मदद

होटल, लॉज आदि का किराया, खुद के और सुरक्षा में तैनात पुलिस के खान-पान आदि पर रोजाना मोटी रकम खर्च हो रही। ऐसे में कुछ रिश्तेदार व एक-दो रसूखदार लोग उन्हें रुपये पहुंचा रहे।

लोकेशन मिलने के डर से बदल दिए अपने पुराने मोबाइल नंबर

साक्षी, अजितेश व उनके पिता हरीश के मोबाइल नंबर बंद जा रहे। सभी ने पुराने नंबर बंद कर दिए, नए सिम इस्तेमाल कर रहे। उनसे भी चुनिंदा लोगों से बात हो रही है।

सोशल मीडिया पर ट्रोल होने के बाद पर्दे के पीछे पहुंचे

साक्षी व अजितेश टीवी चैनलों पर आए, जान को खतरा बताया। विधायक पर आरोप लगाए तो बहस का मुद्दा बन गए। इसके बाद सोशल मीडिया में दोनों ट्रोल हुए। खासकर साक्षी को लेकर तमाम सवाल खड़े किए गए। जिसके बाद वह चैनल वालों के सामने नहीं आ रहे।

विधायक धमकी के मामले में शुरू हुई जांच

विधायक पप्पू भरतौल की हत्या की धमकी वाला वीडियो मामले में जांच शुरू हो गई है। एसएसपी ने इसके लिए तेज तर्रार मातहतों को लगाया है। हालांकि अभी तक ऑडियो में बात करने वालों के बारे में कुछ पता नहीं चल सका है। वहीं विधायक की सुरक्षा को लेकर अधिकारी चौकन्ना हैं। उनके पास पहले से ही पुलिस की सुरक्षा मौजूद है। अगर वह अधिकारियों से और सुरक्षा मांगेगें तो उन्हें उपलब्ध कराई जाएगी।

वायरल आडियो की जांच शुरू, रिपोर्ट मिलने का इंतजार

बिथरी चैनपुर विधायक राजेश कुमार मिश्र उर्फ पप्पू भरतौल का कत्ल करने के जिक्र संबंधी ऑडियो वायरल होने के बाद खुफिया विभाग ने अपने स्तर से जांच शुरू कर दी है। विधायक की सुरक्षा और वायरल ऑडियो की नब्ज टटोलने में लगे खुफिया विभाग के अफसरों ने पप्पू भरतौल से वार्ता की। उन्होंने जहां आडियो वायरल होने संबंधी जानकारी लेने का प्रयास किया। खुफिया विभाग इस पूरे मामले को लेकर सक्रिय दिखाई दे रहा है। खुफिया विभाग के अफसर गुरुवार दोपहर पप्पू भरतौल के कार्यालय पहुंचे। जहां उन्होंने विधायक से वार्ता की। इसके साथ ही उन्होंने वायरल ऑडियो के मामले में पप्पू भरतौल से कई बिंदुओं पर जानकारी लेने का प्रयास किया। करीब आधा घंटे से अधिक समय वार्ता करने के बाद खुफिया विभाग के अधिकारी वहां से चले गए। मामले में विधायक पप्पू भरतौल रिपोर्ट आने का इंतजार कर रहे है। बता दें कि दो लोगों के बीच वायरल हुए ऑडियो में एक पप्पू भरतौल को कत्ल कर देने की बात कह रहा है। एसएसपी मुनिराज जी के निर्देश पर अभिसूचना इकाई भी मामले की पड़ताल कर रही है। 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Abhishek Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप