जागरण संवाददाता, बरेली: दूसरे को न्याय दिलाने वाली खाकी ही घरेलू हिसा का शिकार हो रही है। दहेजलोभियों ने सिपाही बहू से 10 लाख रुपये से ज्यादा की रकम हड़प ली। बावजूद इसके उत्पीड़न कम नहीं हुआ। मांग न पूरी होने पर महिला सिपाही को घर से निकाल दिया। मामले में सुभाषनगर पुलिस ने एसएसपी के आदेश पर आरोपित पति, सास व दो देवरो के विरुद्ध छेड़छाड़, मारपीट, दहेज उत्पीड़न, धमकी की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की है।

महिला सिपाही मूलरूप से लखनऊ की रहने वाली है। वर्तमान में वह पुलिस लाइंस में तैनात है। सुभाषनगर थाने में दी गई तहरीर में महिला सिपाही ने बताया कि 15 फरवरी 2019 को लखनऊ के ही युवक से उसकी शादी हुई थी। विवाह के बाद से पति व ससुराली दहेज के लिए उत्पीड़न करने लगे। एक नवंबर 2019 को पति ने प्लाट खरीदने के बहाने 6.5 लाख रुपये हड़प लिए। इसके बाद एटीएम लेकर धीरे-धीरे कर खाते से 10 लाख रुपये से अधिक निकाल लिए। 30 मार्च 2021 को दहेज की मांग न पूरी होने पर आरोपित पति ने ससुरालियों के साथ मिलकर सिपाही पत्नी को घर से निकाल दिया। थाने में शिकायत की, सुनवाई नहीं हुई। वह चक्कर लगाती रही। एसएसपी के पास पहुंची। एसएसपी के निर्देश पर आरोपितों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज की गई। इंस्पेक्टर सतेंद्र पाल सिंह ने बताया कि जांच में सामने आए तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी।

---

जीजा ने साली को भेजे अश्लील मैसेज, अब झेलेंगे मुकदमा

जासं, बरेली: जीजा ने साली के विवाह में बखेड़ा कर दिया। विरोध हुआ तो साली को अश्लील मैसेज भेजने लगा। भाई ने समझाया तो जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद युवती के भाई ने जीजा के विरुद्ध सुभाषनगर थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी।

मामला सुभाषनगर क्षेत्र का है। थाने में दी गई तहरीर में युवक ने बताया कि 12 दिसंबर 2021 को बहन की शादी थी। विवाह में सभी रिश्तेदारों के साथ बिथरी चैनपुर निवासी मौसेरे जीजा भी शामिल हुए। आरोप है कि विवाह में जीजा ने हंगामा काटा। जैसे-तैसे विवाह की रस्म पूरी हुई। बात आई-गई हो गई। स्वजन कुछ समझ पाते कि इधर, आरोपित जीजा ने साली को अश्लील मैसेज भेजने शुरू कर दिए। साली ने कई बार मना किया लेकिन, वह मानने को तैयार नहीं हुआ। युवती ने भाई को पूरी बात बताई। जब भाई ने जीजा को समझाया तो वह और बिगड़ गया। जान से मारने की धमकी दी। इंस्पेक्टर सुभाषनगर सतेंद्र पाल सिंह ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

Edited By: Jagran