बरेली, जागरण संवाददाता। किला क्षेत्र के मलूकपुर चौकी की जुग्गन वाली गली में एक महिला पर उसके पति ने एसिड अटैक कर दिया। आनन-फानन में महिला को जिला अस्पताल पहुंचा गया। एसएसपी ने भी जिला अस्‍पताल पहुंचकर महिला का हाल जाना। एसएसपी के आदेश पर पुलिस फरार आरोपित की तलाश कर रही है।

जुगल मोहल्ले की रहने वाली नसरीन की 11 साल पहले अपने ममेरे भाई इशाक से शादी हुई थी।  इशाक मांझा बनाने का काम करता है जबकि नसरीन घर में रहकर पतंग बनाती है। नसरीन की दो बेटियां भी है। पीड़िता नसरीन ने बताया कि शादी के कुछ सालों बाद ही दोनों में लड़ाई झगड़ा शुरू हो गया। करीब एक माह पहले उसकी छोटी बेटी की तबियत खराब हो गई थी। इलाज के लिए उसने इशाक से पैसे मांगे तो उसने मना कर दिया। उस वक्त वह नशे में था। इसी बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा बढ़ गया। आरोप है कि नशे में ही इशाक ने नसरीन को तीन तलाक दे दिया जिसके बाद से वह अपने मायके में ही रह रही है। स्वजन ने बताया की मंगलवार को पति घर पर आया तो उसके पास एक बोतल में एसिड था। थोड़ी देर बात की और उसके बाद एसिड फेंक कर भाग गया। चीख पुकार सुनकर पी‍ड़‍िता के स्‍वजन आए और उसे जिला अस्‍पताल में भर्ती कराया। एसिड अटैक में पीड़‍िता का चेहरा और गला झुलस गया है। पीड़‍िता ने हमले से बचने का प्रयास किया था, जिसके चलते तमाम एसिड वहीं जमीन पर फैला गया। अगर पूरा एसिड पी‍ड़‍िता के ऊपर गिर जाता तो स्थिति और गंभीर हो सकती थी।  

 

जानकारी मिलने पर नवागत एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज भी पीड़ि‍ता से मिलने जिला अस्‍पताल पहुंच गए। उन्‍होंने  पुलिस को एक घंटे में आरोपित की गिरफ्तारी करने का आदेश दिया है। पुलिस आरोपी की तलाश में जुट गई है।

Edited By: Vivek Bajpai