बरेली, जेएनएन।  : डॉक्टरों की कॉलोनी रामपुर गार्डन के हॉटस्पॉट बनने के बाद प्रशासन में पैरवी पहुंची कि कोतवाली पुलिस ने 250 मीटर से ज्यादा का एरिया घेर लिया है। इसके बाद डीएम नितीश कुमार ने पुलिस को 250 मीटर का दायरा ही घेरने के निर्देश दिए। मंगलवार को कोतवाली पुलिस ने प्रभा सिनेमा के सामने वाला बैरियर हटा दिया, जबकि धनवंतरि तोमर अस्पताल की तरफ बैरियर बढ़ाया गया है। कोविड-19 की गाइडलाइन में संक्रमित मरीज मिलने के बाद 250 मीटर का दायरा सील करने के निर्देश हैं। दो मरीज मिलने के बाद एक किमी का दायरा सील होता है।

रामपुर गार्डन में रेडियोलॉजिस्ट के संक्रमित मिलने के बाद उनके घर से 250 मीटर के दायरे की घेराबंदी होनी थी। डॉक्टरों का आरोप है कि पुलिस ने 500 मीटर से ज्यादा हिस्से का घेराव कर लिया था। इसकी वजह से कई अस्पताल और ऑफिस घेराबंदी में बंद हो गए। स्वास्थ्य विभाग की छूट के बावजूद मरीज अस्पतालों तक नहीं पहुंच पा रहे थे। चूंकि मामला शहर के कई रसूखदार डॉक्टरों व व्यवसायियों से जुड़ा था, इसलिए प्रशासन को भी हॉटस्पॉट पर विचार करना पड़ गया। डॉक्टरो और व्यवसायियों ने दर्ज कराई थी।

आपत्ति सोमवार को आइएमए सचिव डॉ. राजीव गोयल, सीए राजा सेठी, पार्षद राजेश अग्रवाल समेत रामपुर गार्डन के कई लोगों ने डीएम नितीश कुमार से मुलाकात की थी। पार्षद राजेश अग्रवाल का कहना था कि गाइडलाइन में एरियल डिस्टेंस के आधार पर एरिया को सील करने के निर्देश हैं, लेकिन पुलिस ने रेडियस के हिसाब से रामपुर बाग में घेराबंदी की है। इसकी वजह से लोगों को दिक्कत हो रही है।

मोहनपुर हॉटस्पॉट पहुंचे डीएम मंगलवार को डीएम नितीश कुमार और एसएसपी शैलेश पांडेय ने मोहनपुर के हॉटस्पॉट का भी निरीक्षण किया। सभी प्वाइंट पर सख्ती के साथ लोगों को घरों के अंदर ही रखने के निर्देश पुलिस को दिए गए। यहां एहतियातन पुलिस ने हॉटस्पॉट रखा है। अहमदाबाद से आया हुआ संक्रमित घर तक नहीं पहुंचा था, लेकिन उसका सामान घर तक चला गया था। इसलिए यहां हॉटस्पॉट बनाया गया है।

रामपुर गार्डन के लोगों ने मुझसे मुलाकात की थी। कायदे से 250 मीटर का दायरा ही सील होना चाहिए था। यहां घेराबंदी इससे अधिक के दायरे में हुई थी। इसलिए हॉटस्पॉट को 250 मीटर की परिधि में करवाया गया है। - नितीश कुमार, डीएम

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस