बरेली, जेएनएन : जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 व 35-ए हटाने के बाद सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है। जिला हाई अलर्ट पर है। पुलिस-प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है। प्रमुख संस्थानों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। अधिकारी हालात पर नजर रखे हुए हैं।

सभी महत्वपूर्ण सार्वजनिक-संवेदनशील स्थलों की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। वैसे भी बरेली शहर हमेशा से ही संवेदनशील रहा है। त्रिशूल व छावनी क्षेत्र में तो हमेशा ही सुरक्षा को लेकर सतर्कता बरती जाती है लेकिन विशेष अवसरों पर इसकी सुरक्षा और कड़ी कर दी जाती हैं। त्रिशुल हवाई अड्डे की आतंरिक सुरक्षा खुद एयरफोर्स करती है। जबकि बाहरी क्षेत्र की सुरक्षा का जिम्मा पुलिस का होता है।

पुलिस लगातार यहां निगाह रखे हुए हैं। कोई भी व्यक्ति त्रिशूल एयरबेस के आसपास नहीं जा सकता। इज्जतनगर पुलिस ने भी त्रिशूल के पास-पास के इलाकों में गश्त बढ़ा दी गई है। छावनी क्षेत्र में सेना अपनी सुरक्षा में खुद हमेशा मुस्तैद रहती है। बावजूद इसके कैंट थाना पुलिस ने भी सुरक्षा की दृष्टि कैंट क्षेत्र में अपना मूवमेंट बढ़ा दिया है। कैंट थाना क्षेत्र में ही बुखारा रोड पर आईटीबीपी की बटालियन है। जो खासी महत्वपूर्ण है। यहां भी बाहरी हिस्से में पुलिस ने सुरक्षा बढ़ा दी है।

पुलिस लाइंस व रेलवे जंक्शन पर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। यहां बता दें कि रेलवे जंक्शन को लेकर हाल ही में धमकी आई थी। जिसके बाद पुलिस अलर्ट हो गई थी। माहौल को देखते हुए एडीजी ने सभी पुलिस कर्मियों की छुट्टियां निरस्त कर दी है। जोन के सभी जिलों के एसएसपी को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कहा है कि कोई भी अधिकारी जिला नहीं छोड़ेगा। रात में सड़कों पर पुलिस का मूवमेंट बढ़ाने का कहा गया है।

सावन का सोमवार सकुशल बीता, अब मुस्तैदी और बढ़ी 

खुफिया विभाग के एक अफसर ने बताया कि सावन का सोमवार तो ठीक निपट गया लेकिन अब जिले के हालात पर नजर रखनी है। तहसीलों के अलावा शहर में भी खुफिया विभाग की टीम सक्रिय है। फिलहाल माहौल पूरी तरह से शांत है।

अधिकारियों को माहौल का जायजा लेने के निर्देश

जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि बदले माहौल में विशेष सतर्कता के साथ निगरानी भी की जा रही है। अधीनस्थों को आदेश दिए गए हैं कि वे शहर के साथ ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण कर व्यवस्था और माहौल का जायजा लेते रहें। 15 अगस्त तक पहले से स्वीकृत छुट्टी भी निरस्त कर दी गई है। छुट्टी पर गए अफसरों को वापस बुलाया गया है। कांवड़ यात्र के चलते पहले से ही प्रशासन ने धारा 144 लागू कर रखी है।

शासन के निर्देश की जानकारी सभी अधिकारियों को दी गई है। कानून व्यवस्था को लेकर सभी निर्देशों का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है। - महेंद्र कुमार सिंह, एडीएम सिटी

पूरे जोन में सतर्कता बरती जा रही है। सभी जिलों के एसएसपी को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। संवेदनशील स्थलों पर पेट्रोलिंग बढ़ा दी गई है। इंटेलीजेंस को भी चौकस रहने को कहा गया है। 15 अगस्त तक सभी पुलिस कर्मियों की छुट्टी निरस्त कर दी गई है। - अविनाश चंद्र, एडीजी जोन

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस