बरेली, जागरण टीम: प्राथमिक स्कूल के प्रधानाध्यापक खुर्शीद ने उसी स्कूल की सहायक अध्यापक की वीडियो बनाकर व फोटो खींचकर ब्लैकमेल करने का प्रयास किया। विरोध करने पर वह बच्चों के सामने ही बवाल करने लगा। ईट पत्थर फेकने लगा। यह सब गुरुवार को हुआ था। डरी हुई पीड़ित शिक्षक शुक्रवार को तहरीर देने गई थी। अब दोनों पक्षो में समझौता कराने की कोशिश हो रही। कुछ शिक्षक इसमें लगे हैं।

टीचर को ब्लैकमेल करने का लगाया आरोप साथ ही महिला टीचर ने यह भी बताया प्रधानाध्यापक अक्सर उनके फोटो बच्चों के साथ सेल्फी लेने के बहाने ले लिया करते थे। कई ऐसे वीडियो महिला शिक्षक ने कोतवाली पुलिस को दिए हैं।

सहायक अध्यापिका द्वारा दिए गए प्रार्थना पत्र में प्रधानाध्यापक पर कई और गंभीर आरोप लगाते हुए बताया गया है कि प्रधानाध्यापक द्वारा बनाई गई वीडियो का शिक्षिका द्वारा विरोध करने पर आरोपित आग बबूला हो गया। बदसलूकी करते हुए जान से मारने की धमकी दी। बीच बचाव में आए स्कूल के सहायक अध्यापक पर पथराव कर दिया जिससे वह घायल हो गए।

प्रधानाध्यापक द्वारा महिला शिक्षक पर इस कदर दहशत थी कि महिला शिक्षक अकेली स्कूल से कोतवाली जाने में हिम्मत नहीं जुटा पा रही थी। अपने स्कूल के अन्य शिक्षकों के साथ कोतवाली पहुंची और पूरी जानकारी दी।

आरोपित का शांतिभंग में चालान हुआ। छूटने के बाद किसी ने शिक्षक द्वारा पथराव करने की वीडियो वायरल कर दी। प्रधानाअध्यापक खुर्शीद से संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन संपर्क नहीं हो सका उसके घर वालों ने प्रभारी निरीक्षक को बताया प्रधानाध्यापक मानसिक रूप से परेशान हैं और एक साल पहले इन्होंने बीआरएस की मांग की थी जो नहीं हो पाया एबीएसए शशांक शेखर मिश्रा ने बताया मामले में जांच चल रही जांच पूरी होने के बाद ही कार्रवाई होगी।

Edited By: Aqib Khan