बरेली, जेएनएन। मेरा हक फाउंडेशन की अध्यक्ष फरहत नकवी के साथ एडीजी से मिलने पहुंची क्रिकेटर मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने अमरोहा पुलिस पर बेहद गंभीर आरोप लगाए हैं। कहा- पुलिस ने उनके साथ बदसलूकी की। अमरोहा पुलिस को यह नहीं पता कि महिलाओं के साथ कैसा व्यवहार करना चाहिए। उन्हें और उनकी साढ़े तीन साल की बच्ची को रात में हिरासत में लिया और सुबह गिरफ्तारी दिखाई गई। फरहत नकवी ने अमरोहा पुलिस के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की। एडीजी ने रामपुर की महिला सीओ को अमरोहा पुलिस की जांच के आदेश कर दिए।

शाम करीब साढ़े पांच बजे हसीन जहां एडीजी अविनाश चंद्र से मिलने फरहत नकवी के साथ पहुंचीं। उन्होंने अमरोहा पुलिस की लिखित शिकायत की। इसमें डिडौली के थानेदार देवेन्द्र सिंह और दारोगा केपी सिंह पर गंभीर आरोप लगाए। हसीन जहां ने एडीजी को बताया कि रात में गाउन में ही पुलिस उन्हें थाने ले जा रही थी। जब कपड़े बदलने के लिए कहा गया तो थानेदार ने कहा कि यहीं चेंज कर लो। जैसे-तैसे वह बाथरूम में घुसी और कपड़े चेंज किए। हसीन जहां का आरोप है कि उन्हें पुलिस ने गालियां दीं। गलत तरीके से पकड़कर खींचा गया। उनके साथ उनकी साढ़े तीन साल की बच्ची भी थी। उसे भूखा-प्यासा रखा गया। उसके सामने गाली गलौज व अभद्र व्यवहार किया गया। अमरोहा पुलिस को बच्ची तक पर तरस नहीं आया। फरहत नकवी ने कहा कि महिला के साथ अभद्र व्यवहार करने वाली अमरोहा पुलिस के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। एडीजी ने कहा कि महिला सीओ इस पूरे मामले में अमरोहा पुलिस की जांच करेंगी। दोषी पाए जाने पर सख्त कार्रवाई होगी।  

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस