जेएनएन, पीलीभीत : जिला सहकारी बैंक के महाप्रबंधक एसआर सरोज सरकारी आवास में मृत पाए गए। शव अर्द्धनग्न अवस्था में कुर्सी के पास ही पड़ा मिला। बैंक का गार्ड जब अखबार देने आवास पर पहुंचा तब घटना की जानकारी हुई। सीओ सिटी धर्म सिंह मार्छल भी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने हार्ट अटैक से मौत होने की आशंका जताई है। 

शहर की लोहामंडी स्थित जिला सहकारी बैंक भवन की छत पर बने आवास में ही महाप्रबंधक एसआर सरोज (59) अकेले ही रहते थे। सोमवार की सुबह बैंक का गार्ड हरीशंकर रोजाना की भांति अखबार देने महाप्रबंधक के आवास पर पहुंचा। घंटी बजाई लेकिन कोई रेस्पांस नहीं मिला। उसने दरवाजा खटखटाया। फिर भी अंदर से कोई आवाज नहीं आई। गार्ड ने बैंक शाखा में मौजूद कर्मचारियों को बताया। तब महाप्रबंधक के मोबाइल फोन पर कॉल की गई, लेकिन रिसीव नहीं हुआ। एक कर्मचारी ने खिड़की से झांककर देखा तो अंदर कमरे में महाप्रबंधक कुर्सी के पास लुढ़के दिखाई दिए , इसके बाद पुलिस को सूचना दे दी गई। पुलिस दरवाजे को तोड़कर अंदर दाखिल हुई। सरोज का शव अर्द्धनग्न अवस्था में कुर्सी के पास पड़ा मिला। कुर्सी भी टूट गई थी। हालांकि उनके शरीर पर किसी तरह की चोट का निशान नहीं मिला। 

जिला सहकारी बैंक की अध्यक्ष सुमन गंगवार के पति और भाजपा नेता सत्यपाल गंगवार समेत तमाम लोग मौके पर पहुंच गए। महाप्रबंधक के मोबाइल फोन में मिले नंबरों के जरिये उनके परिजनों को सूचना दे दी। सरोज 31 मार्च होने की वजह से रविवार की रात करीब साढ़े आठ बजे ऑफिस से आवास पहुंचे थे। कमरे में खाना और दूध भी रखा मिला। जाहिर है कि खाना खाने से पहले ही मौत हो गई।  

सुल्तानपुर के मूल निवासी थे सरोज

महाप्रबंधक पद पर एसआर सरोज ने दिसंबर में कार्यभार संभाला था। इससे पहले वह फिरोजाबाद में नियुक्त थे। सरोज मूल रूप से सुल्तानपुर के निवासी थे, लेकिन उनका परिवार लखनऊ के जानकीपुरम इलाके में रहता है। परिवार में पत्नी अनुपमा सिंह के अलावा दो बेटियां हैं। बड़ी बेटी रिचा सिंह हैं। दोनों बेटियां हॉस्टल में रहकर पढ़ाई कर रही हैं।

रात नौ बजे की थी फोन पर बात

भाजपा नेता सत्यपाल गंगवार ने बताया कि महाप्रबंधक सरोज ने रविवार की रात करीब नौ बजे बैंक संबंधी बात करने के लिए उन्हें फोन किया था। उस वक्त वह मीङ्क्षटग में बिजी थे। घंटे भर बाद बात करने को कह दिया था, लेकिन बाद में फोन नहीं आया। 

दो दिन पहले लाए थे एटीएम वैन

जिला सहकारी बैंक कर्मचारी यूनियन के नेता सौरभ गंगवार ने बताया कि दो दिन पहले ही महाप्रबंधक सरोज लखनऊ से एटीएम वैन लेकर आए थे। नाबार्ड के सहयोग से एटीएम वैन उपलब्ध कराई गई है। यह वैन ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ताओं के पास पहुंचेगी।   

Posted By: Abhishek Pandey